नौकरी में फर्जीवाड़ा बेरोजगार युवक हुए हलाकान

नैनपुर (सत्येंद्र तिवारी ): नैनपुर में फर्जी नौकरी भर्ती के लिए नैनपुर के आईटीआई में नौकरी पाने जे लिए आए युवकों ने जोरदार हंगामा किया और प्लेसमेंट ऑफिसर के खिलाफ नारेबाजी की ₹3000 नौकरी के नाम पर रिश्वत मांगने की बात भी कही गई। यह वाकया आज नैनपुर थाने में बेरोजगार युवकों के द्वारा एफ आई आर कर जांच की बात कही जाने के बाद सामने आई।
नैनपुर के आईटीआई में एक प्लेसमेंट कंपनी के माध्यम से फर्जी भर्ती का मामला सामने आया है जिसमें स्केल कंपनी के माध्यम से बेरोजगार छात्रों की भर्ती पर एलएनटी कंपनी मारुति सुज़ुकी ओलंपिक अन्य कंपनियों में भर्ती के लिए एक विज्ञापन दिया गया था जिसके प्लेसमेंट सिलेक्शन के लिए आज नैनपुर आईटीआई का स्थान सुनिश्चित किया गया था। इन कंपनियों में भर्ती के लिए एकमात्र कर्मचारी छिंदवाड़ा से आया था जिसके माध्यम से भर्ती की जानी थी। वहीं जब बेरोजगार छात्रों की सर्टिफिकेट की जांच की गई और उसके बाद उन्होंने प्रत्येक छात्र से नौकरी के लिए ₹3000 की डिमांड रखी और कहा कि यह पैसे देने के बाद आपको कंपनी में नौकरी मिल जाएगी। जैसे ही पैसे देने की बात आई बेरोजगार छात्रों के कान खड़े हो गए और उन्होंने पैसे के बदले में नौकरी को फर्जीवाड़ा बताया और उस कर्मचारी के खिलाफ नारेबाजी की।

मामला तूल पकड़ता गया मामला इतना बढ़ गया कि छात्र किसी भी तरीके से उस कर्मचारी के साथ हाथापाई करने को भी उतारू हो गए उसके बाद तत्काल वहां पर मीडिया के दखल देने के बाद पुलिस पहुंची जिसके कारण छात्र छात्राओं के द्वारा एक लिखित मैं पुलिस में आवेदन दिया और इस फर्जीवाड़े में शामिल उस व्यक्ति के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की बात कही। तमाम बेरोजगार युवकों ने नैनपुर थाने पहुंचकर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई और उनके विरुद्ध कार्यवाही करने की बात कही वहीं पुलिस ने जांच के बाद कार्यवाही की बात कही है। इससे नौकरी पाने के लिए लगभग 500 युवक जोकि बिहार झारखंड रीवा सिंगरौली शहडोल तमाम जगह से आए थे उनमें नाराजगी दिखाई दी साथ ही उनके द्वारा पुलिस प्रशासन से मांग की गई कि उन्हें आने जाने का फेयर कंपनी से दिलाया जाए क्योंकि उनके पास अब सफर करने के लिए पैसे नहीं है।

Leave a Reply