रायपुर निगम के बजट को लेकर वित्त विभाग अध्यक्ष समीर अख्तर ने पार्षदों से मांगे सुझाव

Last Updated on

पार्षदगण एक्सपर्ट जनप्रतिनिधियों से विकास हेतु सुझाव व सहयोग लें – सभापति श्री प्रमोद दुबे
शहर विकास चाहते है तो वार्ड की सोच से उपर उठकर सुझाव दें – श्री सूर्यकांत राठौड़
लीक से हटकर कार्य का पार्षद सुझाव दें ताकि लोग काम को याद रखें – एमआईसी सदस्य श्री अजीत कुकरेजा

रायपुर– नगर पालिक निगम मुख्यालय व्हाईट हाउस के चतुर्थ तल पर निगम सामान्य सभा सभागार में निगम वित्त विभाग अध्यक्ष श्री समीर अख्तर ने रायपुर नगर निगम के बजट को लेकर सुझाव देने बैठक रखी एवं उसमें सभी पार्षदों को उन्होने आमंत्रित करके उनसे सुझाव मांगे। वित्त विभाग अध्यक्ष ने पार्षदों से 3 दिनों में वार्ड व शहर के विकास को लेकर लिखित सुझाव देने का अनुरोध किया है एवं उन्हें आष्वस्त किया है कि उनके दिये गये सुझावों को निगम के बजट में वित्त विभाग के माध्यम से सम्मिलित किया जायेगा।
इस अवसर पर सभापति श्री प्रमोद दुबे ने पार्षदों को सुझाव दिया कि वे सुबह का समय लोगो के मध्य अपने वार्ड में बिताये ताकि वे लोगो से सीधे जुड सके। सभापति ने सुझाव दिया कि पार्षदों में भी अपने क्षेत्र के एक्सपर्ट लोग है। पार्षदों को ऐसे एक्सपर्ट पार्षद के पास जाकर उनसे सुझाव मांग कर सहयोग लेने में कभी हिचकिचाना नहीं चाहिए। उन्होने बताया कि वे जब महापौर थे तो उन्होने इंजीनियर एवं कांट्रेक्टर व अब पार्षद श्री अमर बंसल से सफाई व्यवस्था सहित अन्य जनहितकारी कार्यो के लिये सुझाव व सहयोग मांगा था जो उन्होने उन्हें तुरंत दे दिया। उनका सुझाव के रूप में उन्हें दिया गया सहयोग जनहित की दृष्टि से उपयोगी सिद्ध हुआ। उन्होने कहा कि विगत 5 साल के कार्यकाल में निगम में विपक्ष से सकारात्मक सोच के साथ नगर विकास हेतु तालमेल रहा। उनके कार्यकाल में नगर निगम रायपुर को नेषनल लेवल के 6 पुरस्कार प्राप्त हुए। इसका श्रेय सभी को जाता है। इसमें विपक्ष के सकारात्मक सहयोग का भी योगदान रहा। उन्होने विकास कार्य को सबके साथ मिलकर गति प्रदान करने का कार्य किया।
निवर्तमान वित्त विभाग अध्यक्ष व अग्निषमन विभाग अध्यक्ष श्री अजीत कुकरेजा ने कहा कि उन्होने आनंद नगर में लाईबे्ररी बनवाने कार्य किया। पार्षदों को बजट में लीक से हटकर कार्य वार्ड में करने सुझाव अवष्य देना चाहिए ताकि बजट में शामिल होने पर वह कार्य हो सके एवं उसके जरिए लोग वार्ड व शहर में उन्हें याद रखे। पूर्व नेता प्रतिपक्ष व पार्षद श्री सूर्यकांत राठौड ने कहा कि पार्षदों को शहर विकास चाहिए तो उन्हें वार्ड की सोच व भावना से उपर उठकर कार्य करना होगा। उन्होने निगम स्कूलों के बच्चों को सिटी बस यात्रा निःषुल्क करने बजट में प्रावधान रखने सुझाव दिया। वहीं पूरे जीवन भर रायपुर नगर निगम क्षेत्र में जन्म लेकर जीवन भर कार्य कर मृत्यु को प्राप्त होने वाले मृतकों का निगम क्षेत्र के मुक्तिधाम में निःषुल्क दाह संस्कार करने व्यवस्था देने बजट में प्रावधान रखने का सुझाव दिया। उन्होने पार्षदों को वार्डो में रिक्त शासकीय भूमियों को संरक्षित करवाकर उसके जनहित में सदुपयोग करने सुझाव देने का अनुरोध किया।
इस अवसर पर पार्षद श्री कामरान अंसारी ने राजातालाब के सौंदर्यीकरण का सुझाव दिया। वहीं पार्षद श्री अनवर हुसैन नेे देवेन्द्र नगर नमस्ते चैक में जनसुविधा हेतु ओपन जिम लगवाने का सुझाव दिया। पार्षद श्री मनोज वर्मा ने छत्तीसगढ की संस्कृति से जुडे नहावन संस्कार का संरक्षण सहजता से पूर्व की भांति करने ऐतिहासिक बूढातालाब की शीघ्र सफाई व संरक्षण करवाने का सुझाव दिया। उन्होने वीरभद्र नगर में रिक्त शासकीय भूमि को संरक्षित कर खेल मैदान विकसित करने का सुझाव दिया। उन्होने शासन को वार्ड पार्षदों की मानदेय राषि बढाने प्रस्ताव भेजने का सुझाव दिया। पार्षद श्रीमती विष्वदिनी पाण्डेय ने वार्ड में खेल मैदान विकसित करने अवैध कब्जे हटवाने, वार्ड में डुबान क्षेत्र से बस्ती को बचाने नाला बनाने का सुझाव दिया।
पार्षद श्री कुंवर रजयंत सिंह धु्रव ने शहर में निकासी प्रबंधन को प्राथमिकता से करवाने का सुझाव दिया एवं खारून में नालो का गंदा पानी जाने से रोकने कार्य तेजी से करने सुझाव दिया। पार्षद श्री भोलाराम साहू ने वार्ड में रोड की सफाई का सुझाव दिया। पार्षद श्री रोहित साहू ने वर्ष 2007-08 की सर्वे सूची अनुसार वरिष्ठ नागरिको, महिलाओं, निःषक्तजनों को सुविधा दिलवाने सुझाव दिया। तालाबों के संरक्षण की योजना सहित वार्ड को सफाई युक्त बनाने हर एक हजार लोगो के पीछे 4-5 सफाई कामगार वार्ड में रखने का सुझाव दिया। पार्वती नगर को डुबान से बचाने नाली बनवाने सुझाव दिया। पार्षद श्री तिलक पटेल ने शहर भर में नालियों को ढकने का कार्य मच्छरों को नियंत्रित करने एवं जलापूर्ति सुगम बनाने नई टंकियां बनवाने एवं सरकारी स्कूलो को माॅडल बनाने का सुझाव दिया। एमआईसी सदस्य श्री सुरेष चन्नावार ने शहर में नालो नालियों की सफाई व्यवस्थित करने, सरकारी स्कूलों को व्यवस्थित बनाने सुझाव दिया। एमआईसी सदस्य श्री आकाष तिवारी ने नाली रोड का बेस जाली दार कांक्रीट से विषेषज्ञों का सुझाव लेकर वाटर चार्जिंग हेतु बनाने का सुझाव दिया। उन्होने पार्षदों से अधिकाधिक वाटर हार्वेस्टिंग करवाने एवं आर्थिक स्थिति मजबूत बनाने राजस्व बढाने वार्ड में लोगो को जागरूक बनाकर अधिकतम राजस्व वसूली प्रयास करके करवाने का कार्य करने सुझाव दिया।
पार्षद श्रीमती सुषीला धीवर ने वार्ड में अवैध कब्जो को शासकीय भूमियों से हटाने अभियान चलाने, रायपुर को मच्छरों एवं धूल से मुक्त करने अभियान चलाने सुझाव दिया। पार्षद कमलेष वर्मा ने वार्ड में कच्चे नाले को पक्के नाले में बदलने सुझाव दिया। पार्षद श्री नारद कौषल ने हर जोन में पाईप लाईन का नक्षा रखवाने एवं विद्युत पोलो के लिये पूरे शहर में सर्वे कर बजट रखवाने, इसी प्रकार सर्वे करके नाला नाली का बजट रखवाने एवं पूरे शहर में टुटी फुटी नाली रोड की तात्कालिक मरम्मत हेतु बजट में पृथक से तात्कालीक फंड रखवाने का सुझाव दिया। एमआईसी सदस्य श्री सहदेव व्यवहार एवं पार्षद श्री अमर बंसल ने शहर व वार्ड के विकास हेतु जनहित में सुझाव दिया। इस अवसर पर एमआईसी सदस्य श्री ज्ञानेष शर्मा, श्रीकुमार मेनन, श्री सुन्दर जोगी, श्री रितेष त्रिपाठी, श्री नागभूषण राव, श्री जितेन्द्र अग्रवाल सहित पार्षदगण एवं निगम अपर आयुक्त श्री लोकेष्वर साहू, उपायुक्त वित्त श्री एसपी साहू उपस्थित थे।

Leave a Reply