श्री यन्त्र की अधिष्ठात्री है भगवती राजराजेश्वरी : डॉ इन्दुभवानन्द

जगद्गुरू शंकराचार्य आश्रम मे मनाया गया भगवती राजराजेश्वरी ललिता प्रेमाम्बा महारानी का स्थापना दिवस। इस शुभ अवसर पर प्रातः काल से रुद्राभिषेक के साथ मंगला आरती एवं श्रृंगार आरती के पश्चात आश्रम परिसर मे भगवती राजराजेश्वरी माता का भ्रमण करवाया गया तथा भगवती का आम के फल से किशमिश अक्षत से अर्चन किया गया तथा महाआरती के साथ विशाल भंडारा का आयोजन किया गया। इस अवसर पर आचार्य धर्मेंद्र, रिद्धिपद, डी.पी.तिवारी, सोनू चंद्राकर, भूपेंद्र पांडेय, कुसुम सिंघानिया, रमेश अग्रवाल, गौतम तिवारी, सचिन, शैलू महाराज, महेंद्र तिवारी, डॉ पुष्पकर, अरुण उपाध्याय, राजेश गुप्ता एवं आदि भक्तगण उपस्थित थे। सायंकाल भागवत कथा का भी समापन ब्रह्मचारी डॉ इंदुभवानंद ने किया जिसमें उन्होंने बताया कि भागवत कथा संसार मे भव तारणी है, सभी को मोक्ष प्रदान करती है। यह आयोजन प्रत्येक वर्ष स्थापना दिवस के उपलक्ष्य मे होता है तथा इस वर्ष स्थापना दिवस का 11 वां वर्ष सम्पन्न हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *