शक्ति उपासना का पर्व नवरात्र कल से

चैत्र शुक्ल प्रतिपदा यानी वर्ष प्रतिपदा से वर्ष का आरंभ माना जाता है और इसी दिन से शक्ति उपासना का पर्व नवरात्र भी शुरू होता है. नौ दिन तक चलने वाले इस पर्व में शक्तिस्वरूपा माँ दुर्गा की उपासना की जाती है. इस वर्ष चैत्र नवरात्रि 25 मार्च से प्रारंभ होकर 02 अप्रैल तक रहेगी। 02 अप्रैल को नवमी ति​थि होगी। 03 अप्रैल को दशमी के साथ नवरात्रि का पारण होगा।

आइये जनता है इस बार नवरात्री नवरात्री का पूरा कार्यक्रम

25 मार्च (बुधवार) : पंचक जारी है। चैत्र शुक्ल पक्ष प्रारम्‍भ। विक्रम संवत 2077 प्रारम्भ। नवरात्रि आरम्भ। कलश स्थापना। गुड़ी पड़वा। ध्वजारोहण।

26 मार्च (गुरुवार) : पंचक समाप्त प्रातः 7.12 बजे।

27मार्च (शुक्रवार) : आन्दोलन तृतीया। गौरी तृतीया। गणगौर। सरहुल (बिहार-झारखंड)। श्री मत्स्य जयंती

28 मार्च (शनिवार): वैनायकी श्रीगणेश चतुर्थी व्रत।

29 मार्च (रविवार) : शिव पंचमी। श्री रामराज्य महोत्सव मध्यान्ह कल्प में। श्री लक्ष्मी पूजन। कल्पादि।

30 मार्च (सोमवार) : स्कंद षष्ठी व्रत। ओली प्रारम्भ (जैन)

01 अप्रैल (बुधवार) : इस दिन दुर्गा अष्टमी होगी

02 अप्रैल(गुरुवार) : नवरात्रि के नौवें दिन इस तिथि को राम नवमी के रूप में भी मनाया जाता है।

Leave a Reply