बैंगलुरु में फसे पाटन के 13 मजदूरों की मदद की गयी

राशन,पीने के पानी खरीदने के लिये ग्यारह हजार दिये

रायपुर।छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता विकास तिवारी ने बताया कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के गृह क्षेत्र पाटन के विभिन्न ग्रामों से मजदूर कर्नाटक राज्य की राजधानी बैंगलुरु पहुंचे हुए थे जो लॉगडाउन के कारण वहां पर फस गए थे इनमें दो मासूम बच्चियां,तीन महिलाओ सहित कुल 11 लोग शामिल थे। वहां पर इनके ठेकेदार ने लॉग डाउन के कारण उनके अपने हाल पर छोड़ कर चले गए थे इन मजदूरों के पास खाने-पीने की कोई भी सामान और पीने तक के लिये पानी नहीं था। जिसके कारण एक बड़ी समस्या खड़ी हो गई थी।

प्रवक्ता विकास तिवारी ने बताया कि पाटन क्षेत्र के सुमन साहू,भुनेश्वरी साहू,घनश्याम साहू,विद्या साहू उनकी 2 वर्ष की पुत्री कुसुम साहू,जवाहर साहू,शैल साहू,लालिमा साहू,कमलेश्वर साहू,नेम पटेल और  हेमंत लाल देवांगन शामिल है।पीड़ितों ने बताया कि उनके पास खाने पीने के सामान हेतु पैसा नहीं था यह खबर रायपुर के वरिष्ठ चिकित्सक एवं समाजसेवी डॉ सदानंद मिश्रा ने समाचार पत्र में पढ़ी तो उन्होंने कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी को बुलाकर तत्कालीन के मदद हेतु कहा और बेंगलुरु में इनका पता करके इनसे संपर्क साध इनके खाते ग्यारह हजार रुपया राशन,पानी एवं बच्चों के जरूरत के सामग्री के खरीदने हेतु इनके बैंक एकाउंट में ट्रांसफर करवाया।पैसा पाकर ये सभी मजदूर  जन भावुक हो गए और उन्होंने डॉ सतानंद मिश्रा और प्रदेश के मुख्य भूपेश बघेल को भी धन्यवाद ज्ञापित किया।उन्होंने कहा कि इस संकट के समय में जब उन्हें खाने के लाले पड़ गए थे पीने के साफ पानी के लाले पड़ गए थे तब प्रदेश के मुखिया और उनके क्षेत्र के किसान एवं वरिष्ठ चिकित्सक उनकी सुध ली और उन्हें राशन पानी एवं अन्य जरूरी सामान की खरीदी हेतु  ग्यारह रुपया प्रदान किया इनके लिये उन्होंने आभार भी व्यक्त किया है।

Leave a Reply