मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए किए जा रहे कार्यों की समीक्षा की

पटना: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मुख्य सचिव और अन्य वरिष्ठ पदाधिकारियों के साथ करुणा संक्रमण से निपटने के लिए किए जा रहे कार्यों के संबंध में गहन समीक्षा की समीक्षा के क्रम में मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि जहां-जहां संदिग्ध कोरोना मरीजों का संपर्क क्षेत्र है वैसे स्थलों की ग्रहण स्क्रीनिंग की जाए और ऐसे क्षेत्रों को हॉटस्पॉट घोषित किया जाए.

मुख्यमंत्री ने अपील की है कि जो लोग राज्य के बाहर एवं विदेश की यात्रा करके आए हैं वह अपनी ट्रैवल हिस्ट्री को ना छुपाए इससे उनको खतरा तो है ही साथ उनके परिवार और समाज को भी खतरा है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपर मुख्य सचिव गृह तथा प्रधान सचिव स्वास्थ्य को निर्देश दिया कि कोरोना के प्रसार को रोकने तथा पॉजिटिव मरीजों के इलाज हेतु उपलब्ध सभी संसाधनों का उपयोग करें एवं उनके कांटेक्ट की पहचान कर अधिक से अधिक स्क्रीनिंग कराएं यह भी सुनिश्चित किया जाए कि डॉक्टरों को पी.पी. इ किट,  फेस मास्क तथा अन्य उपकरणों की कमी ना हो

मुख्यमंत्री ने मुख्य सचिव को निर्देश दिया कि आइसोलेशन सेंटर ही तो पर्याप्त संख्या में होटलों एवं अन्य भवनों की व्यवस्था रखें और वहां सभी आवश्यक सुविधाओं की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए.

इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील की है कि लॉक डाउन का पालन करें लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है संक्रमण से निपटने के लिए सरकार हर संभव कदम उठा रही है लोगों के जरूरी सामानों की आपूर्ति बाधित नहीं होगी लोग घर में ही रहे और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें

Leave a Reply