ट्रंपरियाद : सऊदी अरब में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने पहली बार मुलाकात की. ट्रंप अपनी पहली विदेश यात्रा के पहले पड़ाव के तहत सऊदी अरब पहुंचे हुए हैं, जहां उन्होंने पहले ‘अरब इस्लामिक अमेरिकी समिट’ को संबोधित किया. इस समिट में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ समेत 55 मुस्लिम देशों के नेताओं का जमावड़ा लगा रहा. शरीफ के साथ पाकिस्तानी विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अजीज भी सऊदी गए हैं.

पाकिस्तानी न्यूज चैनल जियो टीवी के मुताबिक रविवार को प्रधानमंत्री नवाज शरीफ सऊदी पहुंचे, जहां उन्होंने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मुलाकात की. अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप और शरीफ की यह पहली मुलाकात है. रियाद के किंग अब्दुल अजीज कांफ्रेंस सेंटर में आयोजित समिट से पहले दोनों नेताओं ने एक-दूसरे से हाथ मिलाया. इस बीच ट्रंप ने कहा कि वह पाकिस्तानी पीएम नवाज शरीफ से मुलाकात करके बेहद खुश हैं. इसके जवाब में शरीफ ने कहा कि उनको भी इस मुलाकात से बेहद खुशी हुई है.

आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई अच्छे और बुरे के बीच की लड़ाई

पहले अरब इस्लामिक अमेरिकी समिट में 55 मुस्लिम देश के नेताओं ने शिरकत की. अमेरिकी राष्ट्रपति ने समिट को संबोधित करते हुए मुस्लिम जगत के नेताओं से आतंकवाद को जड़ से उखाड़ फेंकने को कहा. ट्रंप ने कहा कि आतंकवाद ईश्वर की पूजा नहीं करते हैं. वे मौत की पूजा करते हैं. यह अलग-अलग धर्म के बीच की लड़ाई नहीं हैं. यह अच्छाई और बुराई के बीच की लड़ाई है. ऐसे में प्रत्येक देश की जिम्मेदारी है कि वह यह सुनिश्चित करे कि उसकी जमीन पर आतंकियों को पनाह न मिले. आतंकी संगठन किसी तरह की प्रेरणा नहीं देते हैं, बल्कि हत्याएं करते हैं.