शिवजी को समर्पित ग्रंथ शिवपुराण में दुर्भाग्य दूर करने के कई उपाय बताए गए हैं. इस ग्रंथ के अनुसार सप्ताह के सातों दिनों के अधिपति देवता अलग हैं और उन्हें प्रसन्न करने के उपाय भी अलग हैं. यहां जानिए सप्ताह के सातों दिनों के लिए अलग-अलग उपाय…

सोमवार का उपाय – ये चंद्र का दिन है और चंद्रदेव संपति के दाता हैं. इस दिन किसी गरीब को उसकी पत्नी सहित भोजन कराएं. भोजन में शुद्ध घी से बना पकवान अवश्य रखें. साथ ही, महालक्ष्मी की पूजा करें.

मंगलवार का उपाय – मंगलदेव इस वार के अधिपति हैं और वे बीमारियों को दूर करते हैं. इन्हें प्रसन्न करने के लिए मंगलवार को महाकाली की पूजा करें. साथ ही, किसी गरीब को भोजन कराएं. भोजन में उड़द, मूंग या तुवर की दाल जरूर रखें.

बुधवार का उपाय – इस वार के कारक बुध देव बुद्धि के देवता हैं. बुधवार को भगवान विष्णु को दूध से बने पकवान का भोग लगाएं. विष्णु की पूजा से बुध प्रसन्न होते हैं

गुरुवार का उपाय – गुरुवार के स्वामी हैं बृहस्पति और वे आयु बढ़ाते हैं. इन्हें प्रसन्न करने के लिए गुरुवार को वस्त्र, यज्ञोपवीत और खीर से इष्टदेव की पूजा करें.

शुक्रवार का उपाय – सुख-सुविधा की चीज़ों के कारक देवता हैं शुक्र. इन्हें प्रसन्न करने के लिए शुक्रवार को किसी गरीब महिला को सुहाग का सामान और अन्न दान करें.

शनिवार का उपाय – शनिवार के कारक देव शनि हैं और वे मृत्यु भय दूर करते हैं. इन्हें प्रसन्न करने के लिए शनिवार को शिवलिंग पर तिल चढ़ाएं. किसी गरीब को तिल से बना भोजन कराएं.

रविवार का उपाय – रविवार के अधिपति देव सूर्य अच्छा स्वास्थ्य प्रदान करते हैं. इन्हें प्रसन्न करने के लिए रोज़ सूर्य को जल चढ़ाएं. ये उपाय रविवार से शुरू करें. किसी गरीब को गुड़ का दान करें.