ऑनलाइन पोर्टल के शिक्षकों और बच्चों को किया जाएगा प्रोत्साहित

 
जिला मीडिया प्रकोष्ठ प्रभारियों का ऑनलाइन उन्मुखीकरण

रायपुर,स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा संचालित ऑनलाइन पोर्टल ’पढ़ई तुंहर दुआर’ में उल्लेखनीय भूमिका निभाने वाले शिक्षक और विद्यार्थियों को प्रोत्साहित किया जाएगा। इसके लिए विशेष रणनीति तैयार की जाएगी। इस कार्यक्रम को अंतिम छोर तक पहुंचाने के लिए ऑनलाइन क्लास के अलावा वैकल्पिक तरीकों को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से प्रदेश के सभी जिलों के मीडिया प्रकोष्ठ के प्रभारी अधिकारियों का ऑनलाइन उन्मुखीकरण कार्यक्रम राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एससीईआरटी) से आयोजित किया गया। ऑनलाइन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए एससीईआरटी के संयुक्त संचालक डॉ. योगेश शिवहरे ने कोरोना काल में ऑनलाइन शिक्षा विद्यार्थियों के लिए वरदान साबित हो रही है। कई लोग लीडरशीप को लेकर बहुत अच्छा कार्य कर रहे हैं। 
सहायक संचालक और राज्य मीडिया सेंटर के प्रभारी श्री प्रशांत कुमार पाण्डेय ने कार्यक्रम के 3 माह के आंकलन के अनुभव साझा किए। उन्होंने कहा कि प्रत्येक जिले से ऑनलाइन शैक्षणिक गतिविधियों पर केन्द्रित सफलता की कहानी आनी चाहिए। सोशल मीडिया, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, प्रिंट मीडिया और अन्य माध्यमों सेेेे प्रचार-प्रसार कर इसकी सूचना राज्य मीडिया प्रकोष्ठ को नियमित रूप से दी जाए। कार्यक्रम में अमूल्य योगदान देने वाले पालक, बालक और शिक्षक को प्रोत्साहित करें। उन्होंने बताया कि सीजी स्कूल डॉट इन (बहेबीववसण्पद) पर पढ़ई तुंहर दुआर ऑनलाइन पोर्टल पर हमारे नायक स्तंभ प्रारंभ किया गया है। जिसमें प्रत्येक दिन एक जिले के एक शिक्षक और विद्यार्थी की सफलता की कहानी प्रदर्शित की जा रही है। इसका भी व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए। 
समग्र शिक्षा के सहायक संचालक डॉ. एम. सुधीश ने कहा कि राज्य से संकुल स्तर की सूचनाएं मिल रही हैं। इसे संकलित कर अंतर्राष्ट्रीय एवं कॉमन वेल्थ अवार्ड के लिए नामांकित किया जा सकता है। सलाहकार श्री सत्यराज अय्यर ने आने वाले समय में न्यूज डेस्क कार्यक्रम की शुरूआत करने का सुझाव दिया। इस अवसर पर श्री महेश वर्मा, श्री डमरूधर दीप, सुश्री शालिनी शर्मा, कृष्णा गौर, कविता लिखार, विभा मिश्रा सहित जिला और ब्लाक स्तर के लगभग 200 अधिकारियों ने ऑनलाइन बैठक में सक्रिय सहभागिता दर्ज कराई। 

Leave a Reply