छत्तीसगढ़ के 7 मंत्री तैयार करेंगे उड़ीसा में जीत का फार्मूला…चंद्राकर की भाषणशैली के मुरीद बने उड़ीसा के भाजपाई

रायपुर। छत्तीसगढ़ के 7 मंत्री और एक केंद्रीय मंत्री उड़ीसा में संगठन को मजबूत करेंगे। राष्ट्रीय संगठन ने प्रदेश के 13 शीर्ष नेताओं को उड़ीसा की जिम्मेदारी सौंपी है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने सबका साथ, सबका विकास अभियान के तहत प्रदेश के सात मंत्रियों को ओडिशा भेजा है। वहीं मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह और मंत्री बृजमोहन अग्रवाल को पश्चिम बंगाल में संगठन को मजबूत करने के लिए भेजा जाएगा। केदार कश्यप तो ओडिशा दौरे से लौट आये हैं….लेकिन मंत्री अजय चंद्राकर ओड़िशा में लगातार बैठकें ले रहे हैं। खास बात ये है कि अजय चंद्राकर की भाषण शैली उड़ीसा में बेहद लोकप्रिय भी हो रही है।
चंद्राकर कोरापुट ने जैपुर में लगातार बैठकें ली।ओडिशा का प्रभार राष्ट्रीय सहसंगठन मंत्री सौदान सिंह के पास है। ऐसे में सौदान की कोशिश है कि छत्तीगसढ़ से लगे इलाकों में सरकार के मंत्रियों को भेजने से माहौल बदलेगा। मंत्री अमर अग्रवाल को संबलपुर, प्रेमप्रकाश पांडेय को झारसुगुड़ा, पुन्नूलाल मोहले को मलकानगिरी, रामसेवक पैकरा को देवगढ़, राजेश मूणत को रायगढ़ा के दौरे पर भेजा गया है। जल्द ही ये मंत्री भी ओडिशा जाएंगे और संगठन को मजबूत करने की दिशा में काम करेंगे। केंद्रीय मंत्री विष्णुदेव साय और भाजपा के अनुसूचित जनजाति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामविचार नेताम भी ओडिशा प्रवास पर जाएंगे।
विष्णुदेव साय दो चरणों में कोईझर और आंगुल जिले में जाएंगे। रामविचार नेताम को कंधमाल और बोध की जिम्मेदारी सौंपी गई है। वहीं राज्यसभा सांसद रणविजय सिंह जूदेव को भी ओडिशा के चुनाव दंगल में उतारा गया है। जूदेव को सुंदरगढ़ में संगठन की बैठक लेकर छत्तीगसढ़ फार्मूला समझाने की जिम्मेदारी दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *