बिहार में शिक्षकों के वेतन के लिए 3838 करोड़ रुपये जारी

पटना : बिहार सरकार ने मदरसा और प्रारंभिक, हाइ व प्लस टू स्कूलों के शिक्षकों के लिए वित्त वर्ष 2017-18 का वेतन जारी किया है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में मंगलवार को कैबिनेट की हुई बैठक में इसके लिए 3838 करोड़ रुपये मंजूर किये गये. बैठक में 14 प्रस्तावों पर मंजूरी दी गयी, जिनमें चार प्रस्ताव शिक्षकों के वेतन से ही जुड़े हुए हैं.

बैठक के बाद कैबिनेट विभाग के प्रधान सचिव ब्रजेश मेहरोत्रा ने बताया कि कि चालू वित्तीय वर्ष में राज्य के अराजकीय प्रस्वीकृत 1,119 मदरसा और नौ बालिका मदरसों के शिक्षकों और शिक्षकेतरकर्मियों के वेतन, भत्ते समेत अन्य के भुगतान के लिए 200 करोड़ रुपये जारी किये गये हैं.

इसी तरह अराजकीय प्रस्वीकृत 2459+1 कोटि के 609 मदरसों के  शिक्षकों और अन्य कर्मियों के लिए 45 करोड़ और प्राथमिक व मिडिल स्कूलों में राज्य सरकार के अधीन नियोजित 66,104 शिक्षकों (नगर प्राथमिक शिक्षक, नगर प्रारंभिक शिक्षक, प्रखंड शिक्षक और पंचायत शिक्षक) के लिए 1,377 करोड़ रुपये जारी किये गये हैं. ये रुपये नगर निकायों, पंचायत समितियों और पंचायतों को मुहैया करा दिये गये हैं.
इसके अलावा माध्यमिक शिक्षा के अंतर्गत जिला पर्षद और विभिन्न नगर निकायों के अंतर्गत नियोजित 22,741 माध्यमिक शिक्षक, 11,588 उच्च माध्यमिक शिक्षक और एक हजार 896 पुस्तकालयाध्यक्षों के वेतन भुगतान के लिए 2,216 करोड़ रुपये सहायक अनुदान जारी करते हुए इसके खर्च की स्वीकृति भी दी गयी है. आइसीडीएस के अंतर्गत आंगनबाड़ी केंद्रों में चलने वाली ‘सबला’ योजना के लिए चालू वित्तीय वर्ष में 3425 करोड़ रुपये जारी किये गये, जिनमें 1855 करोड़ केंद्रांश और 1570 करोड़ राज्यांश है.