पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह के भ्रष्टाचार को कब तक ढंकेंगे धरमलाल कौशिक और विष्णु देव साय

मोदी है तो मुमकिन है मेडिकल स्टोर्स के पते वाले अभिषाक सिंह के भ्रष्टाचार की फाईल भी चोरी हो जाये

रमन सिंह सरकार के 15 तक साल कमीशन खोरी, भ्रष्टाचार को ढकने के लिए आरएसएस और भाजपा ने लीपापोती की

रमन सिंह के कमीशनखोरी, भ्रष्टाचार में भागीदार रहे भाजपा नेता ही कर रहे है रमन सिंह का बचाव

माल्या की तरह रमन सिंह के फाइल भी हो सकती है गुम : रमन सिंह सरकार के भ्रष्टाचार की काली कमाई का भाजपा के केंद्रीय नेताओं तक पहुंचता था हिस्सा

रायपुर/12 अगस्त 2020। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय और भाजपा विधायक दल के नेता धरमलाल कौशिक के रमन सिंह के बचाव में दिये गये बयान पर कांग्रेस ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि रमन सिंह के 15 साल के शासनकाल में भ्रष्टाचार, कमीशनखोरी में भागीदार रहे भाजपा के नेता ही रमन सिंह को बचाने में लगे हैं। रमन सिंह सरकार की काली कमाई, काले कारनामों में पर्दा डालने में लगे है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ना खाऊंगा ना खाने दूंगा कहा था। आज मोदी जी के ही शासनकाल में भ्रष्टाचार में शामिल लोगों की जांच की फाइल गायब हो जा रही है। इस बात से भी इंकार नही किया जा सकता की माल्या की फाइल की तरह ही कल कही पनामा मामले में फंसे रमन मेडिकल कवर्धा निवासी अभिषाक सिंह की जांच फाइल भी गायब ना हो जाये।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा है कि विष्णुदेव साय बतायें चुनाव आयोग को दिये शपथ पत्र के अनुसार ही रमन सिंह की आय के अधिक अनुपात में संपत्ति कैसे बढ़ रही है? विष्णुदेव साय यह भी बतायें कि रमन सिंह ऐसा कौन सा व्यापार, ठेकेदारी या उद्योग चला रहे थे जिससे उनकी संपत्ति में इतनी अनुपातहीन वृद्धि हुई है। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदेव साय में जरा भी नैतिकता है तो रमन सिंह एवं उनके परिवार की संपत्ति कहाँ-कहाँ पर है एवं बेनामी संपत्ति कितनी और कहाँ है इसकी जानकारी सार्वजनिक करें।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने पूछा है कि भाजपा कांग्रेस के इस सवाल का जवाब क्यों नहीं देती कि रमन सिंह की संपत्ति 10 गुना कैसे हो गई? कांग्रेस ने रमन सिंह जी द्वारा हर चुनाव में दिए गए शपथ पत्रों के आधार पर उनसे साफ सुस्पष्ट सवाल पूछे हैं जिसका भाजपा के पास कोई जवाब नहीं है। दस्तावेज सहित सप्रमाण आरोपों पर भाजपा खोखली बयानबाजी से खारिज नहीं कर सकती है। रमन सिंह के खिलाफ दस्तावेजी सबूत के सामने आने से भाजपाई बौखला गये है। इसी बौखलाहट में भाजपाने झूठे एवं निराधार आरोप का सहारा लिया है।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय और भाजपा के नेता रमन सिंह पर लगाये गये दस्तावेजों, सबूतो के साथ लगाये गये आरोपों को ऐसे खारिज कर रहे जैसे इंकम टैक्स विभाग, सीबीआई, ईडी या न्यायालय सब कुछ भाजपा के नेता ही बन गये है। भाजपा नेताओं में नैतिकता हो तो पहले डॉ रमन सिंह पर लगे आरोप की जांच पूरी होने तक उन्हें भाजपा से बाहर करें और जांच में सहयोग करने कहे। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णु देव साय मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की लोकप्रियता पर सवाल करने से पहले खुद की लोकप्रियता का आंकलन कर ले तो बेहतर होगा। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय को भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं कार्यकर्ताओं का ही समर्थन नही है। लोकसभा चुनाव में पार्टी ने विष्णु देव साय को सांसद की टिकट के लायक नही माना वो लोकप्रियता की बात कर रहे है। विष्णु देव साय पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह एवं उनकी पत्नी की काली कमाई पर पर्दा डालने लोक हितकारी किसान हितकारी कांग्रेस सरकार पर उंगली उठाना बंद करें।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि भाजपा का चरित्र ही आर्थिक अपराधियों को संरक्षण देना है। भाजपा के बड़े नेताओं के संरक्षण में बैंकों को अरबों रुपए का चूना लगाने वाले विजय माल्या, नीरव मोदी, सुशील मोदी सहित कई नामी-गिरामी बैंक डिफाल्टर देश से बाहर निकल चुके हैं। भाजपा अपराधियों के लिए पनाहगाह है और भाजपा के नेता अपराधियों को देश से बाहर भेजने के लिए ट्रैवल एजेंट की भूमिका निभाते हैं।

Leave a Reply