गांव-गरीब-किसान हर वर्ग का भूपेष बघेल सरकार रख रही ध्यान: विकास उपाध्याय

संसदीय सचिव ने बेमेतरा में किया ध्वजारोहण

रायपुर। भारत आज अपना 74वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा है। संसदीय सचिव विकास उपाध्याय ने सुबह ठीक 9 बजे बेमेतरा के जिला प्रशासन द्वारा आयोजित स्थल से ध्वजारोहण किया। इसकी शुरुआत विकास उपाध्याय ने भारत माता की जय के नारे से किया।

हम में से कोई भी शायद ही वह मंजर भूल पाए कि किस तरह देश के विभिन्न इलाकों में फंसे छत्तीसगढ़ के लोग अपना रोजगार, जमापूंजी, घर-गृहस्थी खोकर बदहवाशी की स्थिति में किसी तरह से अपने-अपने गांव-घर पहुँचने की जद्दोजहद कर रहे थे। ऐसे में छत्तीसगढ़ के मुखिया हमारे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इनका दर्द समझा और लाॅकडाउन के बाद भी केन्द्र सरकार से अनुमति लेकर तत्काल इन प्रवासी मजदूरों को उनके घर तक पहुंचाने की व्यवस्था की। संसदीय सचिव गृह श्री विकास उपाध्याय आज स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर बेमेतरा में ध्वजारोहण करने के बाद मुख्यमंत्री का संदेश वाचन कर रहे थे।
श्री उपाध्याय ने कहा कि राज्य की भूपेश बघेल सरकार ने जिस तरह से कोरोना संकटकाल के शुरूआती दौर से ही अपने लोगों की सेवा के लिए युद्ध स्तर पर अभियान चलाकर राहत का काम किया, इसे देख अन्य राज्यों ने भी हमारे मुखिया का अनुशरण करते हुए अपने-अपने राज्यों में राहत व बचाव का काम शुरूर किया। बात चाहे प्रवासी मजदूरों के सुरक्षित घर वापसी का हो, उनके स्वास्थ्य की जांच की हो, उनके रहवास, भोजन, आवागमन का हो अथवा उनके लिए काम उपलब्ध कराने का हो। छत्तीसगढ़ सरकार ने हर संभव प्रयास करते हुए छत्तीसगढ़ के लोगों और खासकर प्रवासी मजदूरों की मदद की है और यह क्रम लगातार चल रहा है। श्री उपाध्याय ने बताया कि राज्य सरकार ने रेलवे मंत्रालय को 171 करोड़ रूपए का भुगतान कर 107 श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलावाया। इन ट्रेनों से लाखों प्रवासी मजदूर सुरक्षित छत्तीसगढ़ लौट सके। घर लौटने के बाद इन प्रवासी मजदूरों के लिए उनके गांवों में ही योग्यता के अनुसार रोजगार उपलब्ध कराया गया। कोरोना संक्रमण को देखते हुए गांव-गांव में क्वारंटाईजन सेंटर की स्थापना कराई गई। संकटकाल में भी राज्य सरकार ने अन्नदाताओं का ध्यान रखते हुए राजीव गांधी किसान न्याय योजना की शुरूआत करते हुए उनके बैंक एकाउंट में सीधे राशि जमा कराई। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान हमारी सार्वभौमिक पीडीएस योजना भी कसौटी पर खरी उतरी। 57 लाख अंत्योदय, प्राथमिकता, निराश्रित, निःशक्तजन राशनकार्डधारियों को निःशुल्क चावल वितरण किया जा रहा है। विकास उपाध्याय ने भूपेश सरकार की राम वन-गमन पथ को लेकर विस्तार से बताया और कहा हमारी सरकार ने चंदखुरी में माता कौशल्या के जन्म स्थली को जीवंत बनाये रखने भव्य मंदिर का निर्माण करने जा रही है ताकि अयोध्या के साथ छत्तीसगढ़ का नाता राम से हमारा भांचा का जो युगों से है वो बना रहे।

विकास उपाध्याय इसके पश्चात कलेक्टर, एस पी समेत तमाम प्रशासनिक अधिकारियों की मौजूदगी में मंच से शांति के प्रतीक कबूतर और बलून आकाश में छोड़ कर इस बात का संदेश दिया। मंच से ही कोरोना वारियर्स के अलग अलग क्षेत्र व संगठन के सैकड़ों लोगो को कोरोना काल में उनके अच्छे कार्य के लिए प्रमाण पत्र दे कर सम्मानित किया। इसके पश्चात शहर में ही आज से शुरू करने गड कलेवा का शुभारंभ करने फीता काट कर उदघाटन किया और बेमेतरा के सभी मंदिरों में जा कर देवी देवताओं के दर्शन कर पूजा की।

विकास उपाध्याय बेमेतरा से लौटते समय आज सिमगा थाना का भी औचक निरीक्षण किया। इस दौरान ड्यूटी में तैनात थाना पुलिस व स्टाॅफ की सजगता की प्रशंसा भी की और उनकी समस्याएं सुनी।

Leave a Reply