पटना. मुख्यमंत्री आवास एक अणे मार्ग में पवित्र रमजान के मौके पर शनिवार को इफ्तार का आयोजन किया गया. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रोजेदारों के साथ आगंतुक अतिथियों का स्वागत किया. इफ्तार में राज्यपाल रामनाथ कोविंद, राजद प्रमुख लालू प्रसाद, पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी, उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव, स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव सहित राज्य सरकार के मंत्री शामिल हुए. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि रमजान के महीने में लोगों के मन में शांति का भाव आता है.

यह एक तरह की तपस्या है जिसमें लोग दिन में रोजा रहते हैं और दिनभर काम करते हैं. उन्होंने कहा कि इस मौके पर दुआ करते हैं कि बिहार में सभी लोग प्रेम, शांति और सद्भाव से रहें. बिहार तरक्की करे और आपसी सद्भाव का वातावरण बना रहे. उन्होंने कहा कि परंपरागत तौर पर हर वर्ष रमजान के महीने में राज्य सरकार की तरफ से इफ्तार का आयोजन किया जाता है.


इस मौके पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अणे मार्ग स्थित नवनिर्मित नेक संवाद भवन का उद्घाटन किया. इसी में बैठकर रोजेदारों ने पहली तकरीर की. तकरीर में मुख्यमंत्री भी शामिल हुए. भवन निर्माण विभाग के प्रधान सचिव अमृतलाल मीणा ने बताया कि मुख्यमंत्री का निर्देश था कि इफ्तार के पहले इस भवन का निर्माण कर देना है. पूरा भवन के ऊपर सोलर प्लेट लगाया गया है. उन्होंने बताया कि इस भवन में कॉन्फ्रेंस हॉल है और मुख्यमंत्री का कार्यालय, पत्रकार कक्ष है.
हज भवन में आयोजित इफ्तार में शामिल होंगे सीएम : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार रविवार को हज भवन में आयोजित इफ्तार में शामिल होंगे. शाम 6.43 बजे आयोजित इफ्तार में कई राजनेता भी शामिल होंगे. वहीं, दूसरी ओर हिंदुस्तानी अवाम मोरचा की ओर से पूर्व सीएम जीतनराम मांझी के 12 स्टैंड रोड स्थित आवास पर इफ्तार का आयोजन किया गया है. इसमें एनडीए के घटक दलों भाजपा, लोजपा व रालोसपा के भी नेता शामिल होंगे.