उत्तरप्रदेश : मुख्यमंत्री ने राज्य में स्थापित 13 नयी बी०एस०एल०-2 प्रयोगशालाओं का लोकार्पण किया

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से राज्य में स्थापित 13 नई बायोसेफ्टी सेकंड जेनरेशन प्रयोगशाला का लोकार्पण किया इसमें 10 प्रयोगशाला प्रदेश के विभिन्न राजकीय मेडिकल कॉलेजों तथा तीन प्रयोगशाला में निजी मेडिकल कॉलेजों में स्थापित की गई हैं इन प्रयोगशाला द्वारा निरंतर कार्य करते हुए प्रतिदिन लगभग 5000 टेस्ट संपन्न किए जा सकेंगे।

कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने
निजी क्षेत्र में स्थापित तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी में स्थापित
प्रयोगशालाओं के प्रतिनिधियों से संवाद किया उन्होंने प्रयोगशाला में
प्रशिक्षित और कुशल मैन पावर की व्यवस्था करने के निर्देश देते हुए कहा कि
प्रयोगशाला में जितने कुशल और प्रशिक्षित टेक्नीशियन कार्य करेंगे कोविड-19
के विरुद्ध संघर्ष उतना ही प्रभावी और सफल होगा।

मुख्यमंत्री ने
अनंत चतुर्दशी के पावन पर्व पर तेरा प्रयोगशालाओं के शुभारंभ की
प्रदेशवासियों को बधाई देते हुए कहा कि कोविड-19 एक वैश्विक महामारी है और
जब तक जिसकी कोई कारगर दवा अथवा वैक्सीन विकसित नहीं हो जाती तब तक अधिक से
अधिक टेस्टिंग ही इसके विरुद्ध सबसे बड़ा हथियार है टेस्टिंग के माध्यम से
कोविड-19 की चेन को नियंत्रित करके व्यापक पैमाने पर जीवन रक्षा की जा
सकती है।

Leave a Reply