लोगों को लड़वाने के लिए मीरा कुमार को बनाया उम्मीदवार

राष्ट्रपति चुनाव के लिए शुक्रवार को एनडीए के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद ने नामांकन भर दिया है. कोविंद के नामांकन के दौरान उनके साथ पीएम मोदी, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, मार्गदर्शक मंडल के सदस्य लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी भी मौजूद थे. इस मौके पर 20 राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने भी अपनी उपस्थिति दर्ज कराई.

मीरा कुमार को विपक्ष की तरफ से राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाने पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस को आड़े हाथों लिया और जमकर निशाना साधा. योगी ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि अगर कांग्रेस पार्टी को मीरा कुमार को उम्मीदवार बनाना ही था, तो वह पिछली बार भी बना सकते थे, लेकिन क्योंकि भाजपा ने कोविंद जी का नाम आगे किया इसलिए लोगों को लड़वाने के लिए कांग्रेस ने मीरा कुमार का चुनाव किया.

रामनाथ कोविंद का देश का 14वां राष्ट्रपति बनना तय माना जा रहा है. एनडीए के साथ-साथ जेडीयू, टीआरएस, बीजेडी जैसे दलों ने उन्हें समर्थन का एलान किया है. ऐसे में रामनाथ कोविंद को 61 फीसदी से भी ज्यादा वोट मिलने की उम्मीद है, क्योंकि अकेले एनडीए का वोट प्रतिशत ही 48.6 फीसदी है.

वहीं नामांकन दाखिल करने के बाद कोविंद ने कहा कि राष्ट्रपति का पद दलगत राजनीति से ऊपर होना चाहिए. कोविंद बोले कि कुछ ही वर्षों में आजादी के 75 साल पूरे होंगे. इसके लिए हमें अभी से तैयार होना होगा. उन्होंने कहा कि मैं सभी को विश्वास दिलाता हूं कि मैं इस पद की गरिमा बनाए रखने का हर संभव प्रयास करूंगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *