पीएम मोदी की अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप से ऐतिहासिक वार्ता आज

रिचमंड । दो दिन की अमेरिका की यात्रा पर पहुंचे भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप से ऐतिहासिक वार्ता आज |  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को अमेरिका के वर्जीनिया में भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि 3 साल के कार्यकाल में सरकार पर भ्रष्टाचार का एक भी दाग नहीं लगा है। उन्होंने कहा कि पहले के मुकाबले भारत तेज गति से आगे बढ़ रहा है।
पीएम ने कहा कि हम भारत पर आतंकवाद के खतरनाक प्रभावों के बारे में दुनिया को बताने में सफल रहे। उन्होंने यह भी कहा कि सजर्किल स्ट्राइक ने दिखाया कि हम धैर्य भी रखते हैं और वक्त आने पर जवाब देना भी जानते हैं। मोदी ने कार्यक्रम में मौजूद भारतीयों से कहा कि वह यहां लोगों के साथ परिवार से मिलने का आनंद महसूस कर रहे हैं।
मोदी  बोले, जब मुख्‍यमंत्री या प्रधानमंत्री नहीं था, तब मैंने अमेरिका के करीब 30 प्रांतों का भ्रमण किया था और किसी न किसी प्रकार आप सभी से मिलने का मौका मिलता था। उन्होंने कहा कि अमेरिका के कार्यक्रम की गूंज पूरी दुनिया में सुनाई देती है। भारत में जब अच्छा होता है तो अमेरिका में भारतीय खुश होते हैं और यदि कोई मुसीबत आती है तो यहां रह रहे भारतीयों को भी उतना ही दुख होता है, जितना कि भारत में रहने वालों को होता है।
पीएम मोदी ने कहा, सर्जिकल स्‍ट्राइक एक ऐसी घटना थी, यदि दुनिया चाहती, तो भारत के बाल नोंच लेती। हमें कटघरे में खड़ी करती, हमसे जवाब मांगा जाता, लेकिन भारत के इतने बड़े कदम पर दुनिया में कहीं भी एक सवाल तक नहीं उठा। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, एक बार कहने पर सवा करोड़ सक्षम लोगों ने सब्सिडी छोड़ दी। इसके बाद सब्सिडी के पैसों से गरीबों को रसोई गैस उपलब्ध कराई गई। भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा, हमने बीड़ा उठाया है कि पांच करोड़ गरीब परिवारों में गैस चूल्हा उपलब्ध कराया जाए। मुझे गर्व है कि अभी तक एक करोड़ परिवारों को गैस सिलिंडर उपलब्ध करवा दिए गए हैं।
अमेरिका में भारतीय समुदाय को सरकार की उपलब्धियां बताते हुए पीएम मोदी ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि पिछले तीन साल में विदेशों में फंसे 80 हजार भारतीयों को बचाकर देश वापस लाया गया। सरकार विदेश में मुसीबत में फंसे भारतीयों की मदद कर रही है। पीएम बोले, सोशल मीडिया की ताकत का असली उपयोग विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने करके दिखाया है।
उऩ्होंने कहा कि अगर किसी ने विदेश से ट्वीट करके मदद मांगी, तो विदेश मंत्री ने महज 15 मिनट में जवाब दिया और 24 घंटे के अंदर सरकार हरकत में आ गई। उन्होंने कहा कि पहले सफाई को लेकर हमारी किरकिरी होती थी, लेकिन आज हर तरफ तारीफ हो रही है।
इससे पहले अमेरिका के दो दिवसीय दौरे के पहले दिन रविवार को पीएम मोदी ने वॉशिंगटन में अमेरिका की 20 दिग्गज कंपनियों के CEOs के साथ बैठक की। उन्होंने जीएसटी को गेमचेंजर बताते हुए निवेशकों को भारत में निवेश के लिए आमंत्रित भी किया। सोमवार को अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप के साथ पीएम मोदी की ऐतिहासिक वार्ता होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *