ओलंपिक प्रशिक्षण फिर से आरंभ किए जाने का खिलाडियों ने किया स्वागत

नई दिल्ली : भारतीय तैराकी क्षेत्र से जुड़े लोगों ने देश भर में स्‍वीमिंग पूलों को फिर से खोले जाने के निर्णय का स्‍वागत किया है। शुक्रवार को खेल मंत्रालय ने प्रतिस्‍पर्धी तैराकों के लिए स्‍वीमिंग पूलों के उपयोग को रेखांकित करते हुए मानक प्रचालन प्रक्रियाओं (एसओपी) जारी किया।

वृद्धावल खाडे उन छह भारतीय तैराकों में से एक है जिन्‍होंने ओलम्पिक क्‍वालिफिकेशन बी मार्क हासिल किया और 2008 ओलम्पिक में भाग लिया। वह इस निर्णय को लेकर बहुत प्रसन्‍न हैं और कहते हैं कि ‘’यह एक शानदार निर्णय है। मैं प्रसन्‍न हूं कि तैराकों को एक बार फिर से पूरे फॉर्म और रेस में वापस आने का अवसर मिलेगा। मुझे उम्‍मीद है कि राज्‍य सरकारें जल्‍द से जल्‍द केन्‍द्र द्वारा लिए गए निर्णय को पूरा समर्थन देने का फैसला करेंगी और सभी प्रतिस्‍पर्धी तैराक एक बार फिर से प्रशिक्षण आरंभ कर देंगे।‘’

अगस्‍त में एसएआई ने दुबई में दो महीने के एक प्रशिक्षण शिविर की मंजूरी दी थी जिसमें तैराक श्रीहरि नटराज तथा कुशाग्र रावत ने भाग लिया था। इन दोनों ने तथा साजन प्रकाश ने भी बी क्‍वालिफिकेशन मार्क हासिल किया है। हालांकि उसने दुबई में प्रशिक्षण लिया था लेकिन नटराज एक बार फिर से भारत में प्रशिक्षण को लेकर प्रसन्‍न है। उसने कहा ‘’मैं खुश हूं कि भारत में स्‍वीमिंग पूल खुल रहे हैं। घर पर रहकर प्रशिक्षण के लिए सक्षम होना मुझे काफी संतोष दे रहा है क्‍योंकि मेरे पास मेरा पूरा सपोर्ट स्‍टाफ उपलब्‍ध है और अधिकतम दक्षता के साथ कार्यक्रम की रूपरेखा तैयार की जा सकती है।

कोविड-19 महामारी द्वारा लाई गई देर के बावजूद, स्‍थगित ओलम्पिक्‍स भारतीय तैराकों के लिए मददगार साबित हो सकती है और द्रोणाचार्य पुरस्‍कार से सम्‍मानित कोच निहार अमीन ने कहा है कि प्रशिक्षण का फिर से शुरू होना इस संबंध में सकारात्‍मक कदम है। उन्‍होंने कहा ‘’मुझे इस खबर से बहुत प्रसन्‍नता है कि हमारे तैराकों को उनका प्रशिक्षण फिर से आरंभ करने की अनुमति दे दी गई है। हमारे सभी तैराकों को महामारी के कारण झटका लगा था तथा ओलंपिक्‍स के नए कार्यक्रम से निश्चित रूप से उन्‍हें अपना फॉर्म पाने में मदद मिलेगी। मैं बहुत आशावान हूं कि हमारे ओलम्पिक बी क्‍वालीफायर एक क्‍वालिफाइंग टाइम हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत करेंगे और देशभर के हमारे सभी तैराक अपने प्रशिक्षण के फिर से शुरू होने को लेकर बहुत उत्‍साहित हैं।‘’

भारत के तैराकी फेडरेशन ने भी इस निर्णय तथा तैराकी के फिर से आरंभ करने को लेकर सृजित एसओपी का स्‍वागत किया है। महासचिव मोनल चोकसी ने कहा कि ‘’हम बहुत प्रसन्‍न हैं कि सरकार ने प्रतिस्‍पर्धी तैराकी फिर से आरंभ करने की अनुमति दे दी है। खेल मंत्रालय का एसओपी दस्‍तावेज एक व्‍यापक तथा सुविचारित दस्‍तावेज है। हमारे एथलीटों की सुरक्षा के लिए इन दिशा-निर्देशों के अनुसरण की आवश्‍यकता को प्रचारित करना हमारी प्राथमिकता होगी।‘’

Leave a Reply