नई दिल्ली:भारतीय सेना पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर बीजेपी ने आजम खान की कड़ी निंदा की है। भाजपा के बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि आजम खान जैसे लोग आतंकवाद के बचाव में बयान देते हैं। वह हमेशा ऐसा करते आ रहे हैं। वह कभी यह बयान देते हैं कि केवल मुसलममानों के कारण जीत हुई थी। सेना पर विवादित बयान देते हुए आजम ने कहा कि ऐसे घटनाओं से देश को शर्मिंदा होना चाहिए।

आज एक न्यूज एजेंसी द्वारा आजम खां का एक वीडियो जारी किया गया था, जिसमें दावा किया गया था कि उन्होंने कहा था कि हथियारबंद महिलाओं ने फौजियों को मारा। लाशों से जिस्म का जो हिस्सा काट कर ले गईं वो हिन्दुस्तान की असल जिंदगी से पर्दा उठाती है। कई लोग फौजियों और बेगुनाहों का सिर काटते हैं। लेकिन इस मौके पर महिला दहशतगर्दों ने फौज के निजी अंगों को काटकर ले गईं।

वीडियो में आजम ने आगे कहा कि महिलाओं को शरीर के किसी और हिस्सों से शिकायत नहीं थी, उन्हें जिस हिस्से से थी वे उसे काटकर ले गईं। यह कितना बड़ा संदेश है कि इसपर पूरे देश को शर्मिंदा होना चाहिए और सोचना चाहिए कि आखिर हम दुनिया को क्या मुंह दिखाएंगे।

इसके बाद वायरल हुए वीडियो पर मचे बवाल के बाद समाजवादी पार्टी नेता आजम खां ने सफाई पेश की है। आजम ने बताया है कि उन्होंने कभी भी आर्मी का मनोबल नहीं तोड़ा। आजम खां ने कहा कि मैंने कभी सेना का मनोबल नहीं तोड़ा। हमने झारखंड मुक्ति मोर्चा की हथियार बंद महिलाओं के कृत्य के बारे में बयान दिया था। इसे बाद में भारतीय सेना को लेकर हमारे बयान को तोड़ मरोड़कर पेश किया गया।’

गौरतलब है कि आज एक न्यूज एजेंसी द्वारा आजम खां का एक वीडियो जारी किया गया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि हथियारबंद महिलाओं ने फौजियों को मारा। लाशों से जिस्म का जो हिस्सा काट कर ले गईं वो हिन्दुस्तान की असल जिंदगी से पर्दा उठाती है। कई लोग फौजियों और बेगुनाहों का सिर काटते हैं। लेकिन इस मौके पर महिला दहशतगर्दों ने फौज के निजी अंगों को काटकर ले गईं।