रायपुर: पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने अपनी जाति संबंधी मामले में कहा है कि उनके खिलाफ साजिश की जा रही है। जोगी ने कहा – मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह मुझे राजनीति में अपना दुश्मन नंबर वन मानते हैं। इसीलिए मेरे खिलाफ विद्वेषपूर्वक ऐसी रिपोर्ट तैयार की गई है।

दरअसल पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगीकी जाति संबंधी मामले में हाईकोर्ट के आदेश पर राज्य सरकार द्वारा एक छानबीन समिति गठित की गई है। इस समिति की रिपोर्ट आधिकारिक रूप से सामने नहीं आई है।लेकिन श्री जोगी ने खुद को मिली जानकारी के आधार कहा है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर बनाई गई हाईपावर कमेटी द्वारा तैयार रिपोर्ट में उन्हें आदिवासी नहीं माना गया है।

इस संबंध में अब तक हाईपावर कमेटी की ओर से आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है, लेकिन जैसे ही कमेटी की रिपोर्ट तैयार होने की भनक जोगी को लगी, उन्होंने मीडिया से बातचीत कर इसे राज्य सरकार की साजिश करार दिया है । उनका कहना है कि उन्हें विश्वस्त सूत्रों से जानकारी मिली है कि जल्द ही रिपाेर्ट पेश की जाएगी कि उन्हें कंवर जनजाति का नहीं माना गया है।

जोगी ने कहा मेरे खिलाफ विद्वेषपूर्वक ऐसी रिपोर्ट तैयार की गई है। उन्होंने रिपोर्ट मिलते ही कोर्ट में जाएंगे। उन्होंने कहा कि वे 1986 तक शासकीय सेवा में रहे , तब तक कोई शिकायत नहीं की गई, लेकिन जैसे ही मैं 1987 में राज्यसभा सदस्य बना, तब से अब तक यह विवाद चल रहा है। पांच बार कोर्ट में यह मामला जा चुका है और जीत मिली है। उन्होंने कहा, मेरे रहते तक यह विवाद जारी रहेगा और मेरे बाद अमित जोगी को भी इसका सामना करना पड़ेगा।