वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने जी20 के वित्त मंत्रियों की आभासी बैठक में भाग लिया

नई दिल्ली : केंद्रीय वित्त और कॉर्पोरेट मामलों की मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने आज यहां जी 20 के वित्त मंत्रियों की आभासी बैठक में भाग लिया। जी 20 देशों के वित्त मंत्री कोविड-19 संकट के मद्देनजर वैश्विक आर्थिक चुनौतियों, इसे कम से कम जोखिमों और कैसे संकट के इस दौर में शुरू की गई सामूहिक वैश्विक कार्रवाई को जी 20 आगे बढ़ा सकता है, इस पर अपने विचार साझा करने के लिए इकट्ठा हुए थे।

वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने कोविड-19 संकट को समाप्त करने के लिए जी 20 सदस्यों द्वारा आगे के प्रयासों की आवश्यकता और इस दिशा में सभी के लिए सस्ती और आसानी से वैक्सीन की उपलब्धता पर जोर दिया। उन्होंने जी 20 की कार्ययोजना को इस समूह की आर्थिक प्रतिक्रिया का मुख्य आधार बताया। उन्होंने कहा कि यह न केवल हमारी तात्कालिक प्रतिक्रिया का समन्वय करता है, बल्कि हमारे दीर्घकालिक प्रतिलाभ के प्रयासों का भी मार्गदर्शन करता है। वित्त मंत्री सीतारमण ने सऊदी अरब की अध्यक्षता में जी-20 की एक महतवपूर्ण उपलब्धि ‘कर्ज सेवा निलंबन पहल’ पर प्रकाश डाला। साथ ही इसे हासिल करने के लिए सभी जी 20 सदस्यों द्वारा सामूहिक और समन्वित प्रयासों की आवश्यकता पर जोर दिया।

श्रीमती सीतारमण ने कोविड-19 महामारी को लेकर जी 20 के एजेंडा को आगे बढ़ाने के लिए किए जा रहे प्रयासों और कुशल नेतृत्व के लिए सऊदी अरब को बधाई दी। वित्त मंत्री ने कहा कि भारत इटली की अध्यक्षता में दिसंबर 2020 से ट्रोइका सदस्य के रूप में काम करने को लेकर काफी आशान्वित है।

Leave a Reply