लालू के 12 ठिकानों पर CBI का छापा, पत्नी व बेटे के खिलाफ केस दर्ज

नई दिल्ली । लालू प्रसाद यादव की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रहीं हैं। सीबीआई ने लालू प्रसाद यादव, उनकी पत्नी, बेटे समेत कई अन्य के खिलाफ केस दर्ज किया है। इस मामले में आईआरसीटीसी के पूर्व प्रबंध निदेशक के खिलाफ भी केस दर्ज किया गया है।

सीबीआई ने 2006 के जिस मामले में लालू प्रसाद यादव के 12 ठिकानों पर CBI की छापेमारी की है उनमें दिल्ली, पटना, रांची, पुरी और गुरुग्राम शामिल हैं। नई दिल्ली (एएनआई)। लालू प्रसाद यादव की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रहीं हैं।

सीबीआई ने लालू प्रसाद यादव, उनकी पत्नी, बेटे समेत कई अन्य के खिलाफ केस दर्ज किया है। इस मामले में आईआरसीटीसी के पूर्व प्रबंध निदेशक के खिलाफ भी केस दर्ज किया गया है। सीबीआई ने 2006 के जिस मामले में लालू प्रसाद यादव के 12 ठिकानों पर CBI की छापेमारी की है उनमें दिल्ली, पटना, रांची, पुरी और गुरुग्राम शामिल हैं।

आपको बता दें कि 2006 के दौरान लालू प्रसाद यादव यूपीए सरकार में रेलमंत्री थे और उन पर आरोप है कि तब उन्होंने रेलवे के होटल टेंडर निजी कंपनी को दिए थे और रेल मंत्री के तौर पर निजी कंपनी को फायदा पहुंचाया था। दूसरी तरफ से सीबीआई और दूसरी ओर बेनामी संपत्ति के मामले में लालू परिवार पहले से ही इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की रडार पर बना हुआ है।

सीबीआई ने आईआरसीटीसी के तत्कालीन प्रबंध निदेशक, एक व्यक्ति, एक निजी मार्केटिंग कंपनी के दो निदेशक और एक अन्य कंपनी के दो निदेशक के खिलाफ मामला दर्ज किया है। आयकर विभाग बेनामी ट्रांजैक्शन ऐक्ट के तहत लालू की पत्नी राबड़ी देवी, बेटी मीसा भारती और बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव पर केस दर्ज कर चुकी है।

गौर करने वाली बात यह है कि 50 करोड़ रुपये की बेनामी संपत्ति मामले में आयकर विभाग ने लालू प्रसाद यादव के दिल्ली के ‘बेनामी संपत्तियां’ कुर्क करने के आदेश दिए हैं। इन छापों के बाद आयकर विभाग की एक अलग इकाई इन संदिग्ध बेनामी संपत्तियों की जांच कर रही है। इन संपत्तियों की कीमत करीब कई सौ करोड़ बताई जा रही है.

आपको बता दें कि 2006 के दौरान लालू प्रसाद यादव यूपीए सरकार में रेलमंत्री थे और उन पर आरोप है कि तब उन्होंने रेलवे के होटल टेंडर निजी कंपनी को दिए थे और रेल मंत्री के तौर पर निजी कंपनी को फायदा पहुंचाया था। दूसरी तरफ से सीबीआई और दूसरी ओर बेनामी संपत्ति के मामले में लालू परिवार पहले से ही इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की रडार पर बना हुआ है।

सीबीआई ने आईआरसीटीसी के तत्कालीन प्रबंध निदेशक, एक व्यक्ति, एक निजी मार्केटिंग कंपनी के दो निदेशक और एक अन्य कंपनी के दो निदेशक के खिलाफ मामला दर्ज किया है। आयकर विभाग बेनामी ट्रांजैक्शन ऐक्ट के तहत लालू की पत्नी राबड़ी देवी, बेटी मीसा भारती और बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव पर केस दर्ज कर चुकी है।

गौर करने वाली बात यह है कि 50 करोड़ रुपये की बेनामी संपत्ति मामले में आयकर विभाग ने लालू प्रसाद यादव के दिल्ली के ‘बेनामी संपत्तियां’ कुर्क करने के आदेश दिए हैं। इन छापों के बाद आयकर विभाग की एक अलग इकाई इन संदिग्ध बेनामी संपत्तियों की जांच कर रही है। इन संपत्तियों की कीमत करीब कई सौ करोड़ बताई जा रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *