गुरू नानक ने पूरी दुनिया में भ्रमण कर प्रेम, सदाचार, भाईचारा और समानता का दिया संदेश: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

मुख्यमंत्री गुरूद्वारा श्री गुरू सिंह सभा रायपुर में
आयोजित प्रकाश पर्व में हुए शामिल

प्रबंधन समिति के पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री का शॉल, श्रीफल और सरोपा भेंट कर किया स्वागत

रायपुर, 30 नवम्बर 2020/ मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल आज यहां राजधानी रायपुर के स्टेशन रोड स्थित गुरूद्वारा श्री गुरू सिंह सभा में आयोजित गुरु नानक देव जी के 551वें प्रकाश पर्व में शामिल हुए। उन्होंने गुरू ग्रन्थ साहिब में मत्था टेका और प्रदेशवासियों की सुख-समृद्धि की कामना की। मुख्यमंत्री ने उपस्थित लोगों को प्रकाश पर्व की बधाई और शुभकामनाएं भी दी। 

   मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि गुरुनानक देव महान संत थे। उन्होंने जीवन जीने की कला सिखलाई और पूरी दुनिया में भ्रमण कर प्रेम, सदाचार, भाईचारा और समानता का संदेश दिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि गुरू नानक देव जी ने ऊंच-नीच, छूआछूत, भेदभाव और जातिवाद से ऊपर उठकर मानवता का संदेश दिया है, वह आज भी प्रासंगिक है। 

मुख्यमंत्री ने गुरु नानक देव के जीवन से जुड़े प्रसंग का उल्लेख करते हुए कहा कि गुरु नानक देव जी ने जो खरा सौदा किया, वहीं आज लंगर के रूप में प्रसिद्ध है। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि समाज में खासकर मध्य एशिया क्षेत्र में जब कुरीतियां और अराजकता व्याप्त थी, ऐसे समय में गुरू नानक जी का अवतरण हुआ। वे बाल्यकाल से ही चिंतन, मनन करने वाले और मानवता के प्रति अगाध प्रेम से ओत-प्रोत रहे। गुरू नानक देव जी ऐसे संत थे, जिन्होंने लंबी दूरी की पदयात्राएं की और समानता, भाईचारा और प्रेम का संदेश दिया। मुख्यमंत्री ने कहा हम सब एक ही ईश्वर के संतान हैं, इसमें भेदभाव नहीं होना चाहिए। शांति के बिना समाज में सुख-समृद्धि संभव नहीं है। गुरू नानक देव जी ने एक सहज, सरल और संगठित समाज की नींव रखी। जिसमें जात-पांत और अमीर-गरीब का कोई भेदभाव नहीं है।

    मुख्यमंत्री ने सिख समाज की प्रशंसा करते हुए कहा कि सिख समाज की पहचान एक जिंदा दिल कौम के रूप में है। हर परिस्थिति में कैसे खुश रहा जा सकता है, यह उनसे सीखा जा सकता है। कोरोना संकट के दौर में भी लोगों को राहत पहुंचाने के लिए सिख समाज द्वारा की गई सेवा की सराहना की। इस अवसर पर संसदीय सचिव श्री विकास उपाध्याय, महापौर नगर पालिक निगम रायपुर श्री एजाज ढेबर, राज्य अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष श्री महेन्द्र सिंह छाबड़ा, गुरूदारा प्रमुख श्री निरंजन सिंह खनूजा और प्रबंधन समिति के पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री का शॉल, श्रीफल और सरोपा भेंट कर स्वागत किया।

Leave a Reply