पटना : बिहार के मुख्यमंत्री सह जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार तीन दिनों के राजगीर प्रवास के बाद आज राजधानी पटना लौट आएं हैं. स्वास्थ्य लाभ करने के लिए सीएम नीतीश पिछले 72 घंटे से राजधानी से दूर राजगीर में स्वास्थ्य लाभ कर रहे थे. इस बीच शुक्रवार को लालू परिवार के बारह ठिकानों पर सीबीआइ की छापेमारी से लेकर राष्ट्रपति उम्मीदवार मीरा कुमार का आगमन तक हुआ.

इन सबके बीच जदयू नेता संजय सिंह ने कहा कि 11 जुलाई को पार्टी की बैठक पहले से निर्धारित है. जिसमें सभी जिला अध्यक्ष शामिल होंगे. उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी इस बैठक में शामिल होंगे. चर्चा है कि जदयू की इस अहम बैठक में नीतीश कुमार प्रदेश में उपजे सियासी हलचल पर विचार विमर्श करेंगे. वहीं राजद विधायक दल की बैठक कल यानि 10 जुलाई को बुलाई गयी है. जिसमें सीबीआइ, इडी और आयकर विभाग की कार्रवाई को लेकर लालू पार्टी नेताओं संग चर्चा कर सकते हैं.

गौर हो कि लालू फैमिली से जुड़े ठिकानों पर सीबीआइ की छापेमारी के ठीक एक दिन पहले स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी कारणों से नीतीश कुमार आराम करने राजगीर चले गए थे जिसके बाद से वे वहीं से पटना में होने वाली सभी हलचलों पर नजरें बनाये थे. पिछले तीन दिनों से न तो नीतीश कुमार अौर न ही जदयू के किसी नेता ने लालू फैमिली से जुड़े मामलों को लेकर मीडिया से किसी तरह की कोई बयान दिया है.

चर्चा है कि पटना वापसी के साथ ही तेजस्वी यादव पर नीतीश कुमार के स्टैंड को लेकर उठ रहे सवाल पर जदयू की ओर से कोई प्रतिक्रिया दी जा सकती है. राजगीर में रहते हुए नीतीश कुमार ने सिर्फ आला अधिकारियों और जदयू नेताओं के साथ बैठक की थी. यहां तक कि जदयू प्रवक्ताओं ने भी सीबीआइ की छापेमारी को लेकर पूरी तरह से चुप्पी साध रखी थी.