विज्ञान का संदेश देने के लिए फिल्म एक अच्छा माध्यम है : डॉ. हर्षवर्धन

नई दिल्ली : भारतीय अंतर्राष्‍ट्रीय विज्ञान फिल्‍मोत्‍सव (आईएसएफएफआई), भारतीय अंतर्राष्‍ट्रीय विज्ञान महोत्‍सव (आईआईएसएफ) 2020 का एक प्रमुख आकर्षण है। इस वर्ष आईएसएफएफआई को 60 देशों से 634 विज्ञान फिल्‍म प्रविष्टियां प्राप्‍त हुई हैं। यह उत्‍साही और युवा फिल्‍म निर्माताओं को विज्ञान फिल्‍म बनाने और विज्ञान को लोकप्रिय बनाने में योगदान देने के लिए एक बड़ा और महत्‍वपूर्ण मंच है।

आईएसएफएफआई के उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए केन्‍द्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी, पृथ्‍वी विज्ञानतथा स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि अनेक प्रकार की फिल्‍में प्राप्‍त हुई हैं, क्‍योंकि ये फिल्‍में विज्ञान, प्रौद्योगिकी, कोविड-19 से संबंधित जागरूकता और भारत के आत्‍मनिर्भर बनने के प्रयासों जैसे विषयों पर आधारित हैं। विज्ञान फिल्‍में विज्ञान का संदेश देने के लिए एक अच्‍छा माध्‍यम हैं।

फिल्मनिर्माता और आईएसएफएफआई के जूरी अध्यक्ष श्री माइक पांडे ने कहा कि हर साल फिल्‍मोत्‍सव का आकार और पैमाना बढ़ रहा है। यह समारोह अब भावी विज्ञान फिल्‍म निर्माताओं को सुविधा प्रदान करने के लिए एक बड़ा महत्‍वपूर्ण मंच बन गया है। यहां बड़ी क्षमता उपलब्‍ध है और हम ऐसे निर्माताओं को पोषित करने के लिए अपना अनुभव साझा कर सकते हैं।

ब्रिटेन के पब्लिक हेल्‍थ फिल्‍म सोसाइटी के अध्‍यक्ष डॉ. उई होआंग ने कहा कि विज्ञान का संदेश लोगों को एक साथ लाने की चुनौती का सामना करने के लिए तैयार है और फिल्म निर्माताओं ने इस मुद्दे से निपटना भी शुरू कर दिया है और यह उम्मीद है कि यह लक्ष्‍य जल्‍द ही हासिल हो जाएगा।

विज्ञान प्रसारके निदेशकडॉ. नकुल पाराशर ने कहा कि हमें फिल्‍मोत्‍सवआयोजित करने का अच्छा अनुभव है, क्‍योंकिहमने इससे पहले भी राष्ट्रीय विज्ञान फिल्‍मोत्‍सव के 10वें संस्करण का वर्चुअल रूप से आयोजन किया है। इस फिल्‍मोत्‍सव के लिए हम समान रूप से उत्‍साहित हैं। आईएसएफएफआई के समन्वयक श्री निमिष कपूर ने कहा कि विज्ञान को लोकप्रिय बनाने के लिए फिल्मों के माध्यम की क्षमता का पूरा उपयोग करने के लिए पूरे प्रयास किए जा रहे हैं। आईआईएसएफ के दौरान हम 200 से अधिक फिल्मों का ऑनलाइन प्रदर्शन करेंगे। पुरस्कार विजेता फिल्मों के नामों की 25 दिसंबर को घोषणा की जाएगी।

भारतीय अंतर्राष्‍ट्रीय विज्ञान फिल्‍मोत्‍सव का उद्देश्‍य नागरिकों में विज्ञान की लोकप्रियता को बढ़ावा देना तथा युवा विज्ञान फिल्‍म निर्माताओं और विज्ञान के प्रति उत्‍साही लोगों को आकर्षित करना है। यह समारोह छात्रों और फिल्‍म निर्माताओं को फिल्‍मों के माध्‍यम से विज्ञान के संचार की प्रक्रिया में शामिल होने का अवसर प्रदान करता है।

Leave a Reply