स्व.कैलाश सारंग स्मृति टूर्नामेंट के रोमांचक मुकाबले में दिल्ली पहुँची फाइनल में आज होगी कड़ी टक्कर

धनपुरी, शहडोल खेल प्रेमियों के लिए आज का दिन खास होने वाला है, आज उन्हें क्रिकेट के कई करिश्मे भी देखने को मिल सकते है आपको बता दे कि इंदौर और दिल्ली के बीच खेला जाएगा फाइनल मुकाबला धनपुरी क्रिकेट का रोमांच धनपुरी नगर का खेल प्रेमियों के सर चढ़कर बोल रहा है स्वर्गीय कैलाश सारंग जी की स्मृति में चल रहे आनतारजिय क्रिकेट टूर्नामेंट में खेल प्रेमियों को रोमांचक खेल देखने को मिल रहा है बड़ी संख्या में धनपुरी बुढार शहडोल एवं कोयलांचल क्षेत्र के क्रिकेट प्रेमी मैच देखने ज्वालामुखी खेल मैदान में पहुंच रहे हैं गत दिवस टूर्नामेंट का दूसरा सेमीफाइनल मुकाबला पंजाब और इंदौर के बीच खेला जाएगा इस मुकाबले में पंजाब की टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया दोनों टीम भली-भांति यह जानती थी आज का मुकाबला जो जीतेगा वह फाइनल मुकाबला खेलेगा और जो हारेगा वह टूर्नामेंट से अलविदा कहेगा टॉस जीतकर पहले बैटिंग करने का निर्णय सही साबित हुआ

और पंजाब की टीम ने तेज गति से रन बनाने का किरण नीति अपनाई पंजाब के बल्लेबाजों ने इंदौर के गेंदबाजों को मैदान के हर कोने पर चौके छक्के मारकर खेल प्रेमियों का दिल जीता आज के मैच में जिस प्रकार से पंजाब के बल्लेबाज बल्लेबाजी कर रहे थे उसे देखकर ऐसा लग रहा था कि सारे बल्लेबाज पिच पर एक बड़ा स्कोर बनाने के इरादे से ही आए हैं ताबड़तोड़ बैटिंग करते हुए पंजाब की टीम ने 20 ओवर में छह विकेट गंवाकर 178 रन बनाकर इंदौर के सामने बड़ी चुनौती पेश कर दी इंदौर की टीम जब बल्लेबाजी करने उतरी तो उनके सामने लगभग 9 रन प्रति ओवर के हिसाब से रन बनाने का लक्ष्य था इंदौर की ओपन बल्लेबाजों की अपनी टीम को सजी हुई आक्रामक शुरुआत दी इंदौर की टीम से बल्लेबाज प्रियांशु और सौरव शर्मा ने मैदान के हर कोने पर चौके छक्के लगाते हुए तेजी से स्कोरबोर्ड बढ़ाया दोनों ही टीम जीतने के लिए अपनी पूरी ताकत लगा रही थी दर्शकों को एक जबरदस्त रोमांचक मुकाबला देखने को मिल रहा था जिसकी वजह से हर कोई अपनी अपनी जगह पर खड़े होकर बैठ कर हर एक पल का आनंद ले रहे थे मैच के आखिरी ओवर में इंदौर की टीम को जीत के लिए 8 रन बनाने थे अजय रोहरा अपनी टीम को जीत दिलाने के लिए कृत संकल्पित एक तरफ विकेट गिराने से रनों की रफ्तार में अंकुश लगाया था लेकिन उसके बाद भी जब तक अजय रोहरा पिच पर मौजूद थे इंदौर की उम्मीदें जिंदा थी आखिरी ओवर में 8 रन बनाने थे इस ओवर में रोमांच अपने चरम पर पहुंच चुका था मैदान रोमांचक मुकाबले में जीते देखने की दुआ कर रहा था आखिरी ओवर में इंदौर की टीम के दो खिलाड़ी लगातार दो बालों पर आउट हुई जिसकी वजह से लोगों की सांस रुकने लगी आखिरी बॉल पर इंदौर को जीतने के लिए 2 रन चाहिए थे और बल्लेबाज अजय अरोरा ने 2 रन देकर अपनी टीम को 4 विकेट से जीत दिला दी अपनी दमदार पारी से इंदौर टीम को जीत दिलाने वाले अजय रोहिरा ने 34 गेंदों में शानदार 50 रन की पारी खेली शानदार खेल का प्रदर्शन करते हुए अपनी टीम को जीत दिलाने वाले बल्लेबाज अजय अरोरा मैच मैन ऑफ द मैच बने उन्हें पूर्व पार्षद बारा टू लोधी ने मैन ऑफ द मैच की ट्रॉफी एवं 11 ₹100 का नगद की राशि से पुरस्कृत किया आज के मैच में नगर के प्रतिष्ठान नागरिक अवध राज सिंह राणा भाजपा युवा के जिला अध्यक्ष अजय सिंह बघेल शारदा तिवारी प्रमुख रूप से मंचासीन रहे आज होगा इंदौर और दिल्ली के बीच फाइनल मुकाबला स्वर्गीय कैलाश सारंग समिति टूर्नामेंट के संयोजक एवं युवा मोर्चा जिला अध्यक्ष नितिन सिंह राणा ने अपनी जानकारी देते हुए बताया कि

स्वर्गीय कैलाश सारंग समिति टूर्नामेंट का फाइनल मुकाबला आज इंदौर और दिल्ली के बीच खेला जाएगा इस मुकाबले में मध्य प्रदेश शासन के मंत्री विश्वास सारंग मुख्य अतिथि के रूप में दोपहर 3:00 बजे शामिल होंगे नितिन सिंह राणा ने नगर के समस्त खेल प्रेमियों से अधिक से अधिक संख्या में ज्वालामुखी खेल मैदान में पहुंचकर फाइनल मुकाबला देने की अपील की आंखों देखा हाल सुनाने में महारत हासिल रखते हैं अजय द्विवेदी टूर्नामेंट के दौरान दर्शकों को मैच का आंखों देखा हाल सुनाने में भी जबरदस्त आनंद आ रहा है इंजीनियरिंग अजय द्विवेदी की शानदार आवाज खेल का आनंद और भी बढ़ा देती है धनपुरी नगर के अंदर मैदान पर उपस्थित खेल प्रेमी तो उनकी जबरदस्त कमेंट्री सुनकर आनंदित होते ही हैं लेकिन जो लोग मैदान पर पहुंचकर मैच नहीं देख पाते उन्हें भी अजय द्विवेदी की शानदार कमेंट्री सुनकर मैच का आनंद घर बैठे मिल रहा है आज के मैच में अंपायर की भूमिका एसपी सिंह एवं जुबेर खान ने निभाई स्कोरबोर्ड सूर्य शुक्ला एवं उनके सहयोगी ने संभाला टूर्नामेंट को सफल एवं ऐतिहासिक बनाने में नितिन सिंह राणा के साथ भूपेंद्र सिंह शकील तबरेज सनी सिंह हर्ष सिंह पिंटू पटेल दिन रात पूरी में ईमानदारी से मेहनत कर रहे हैं निश्चित ही नितिन सिंह राणा और उनकी सहयोगी युवाओं की मेहनत की वजह से यह टूर्नामेंट सफलताओं के सारे रिकॉर्ड तोड़ रहा है

Leave a Reply