ग्रामीण विकास मंत्री टीएस सिंहदेव 11वीं एरिना असेंबली में वेबिनार के माध्यम से हुए शामिल

रायपुर : छत्तीसगढ़ के माननीय ग्रामीण विकास मंत्री श्री टीएस सिंहदेव ने 11वीं एरिना असेंबली में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से शामिल होकर इस वर्चुअल बैठक में छत्तीसगढ़ की स्वास्थ्य सेवा के विस्तार के साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में सौर ऊर्जा के उपयोग के बारे में चर्चा की।

श्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि 3000 से 5000 की आबादी से ग्रामीण स्तर से लेकर 50000 तक की आबादी के लिए हमारे पास दो प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र की व्यवस्था हैं, इसके उपरांत हमारी सरकार ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों को 1 लाख आबादी के लिए सुनिश्चित किया है। इसके ऊपर की आबादी के लिए छत्तीसगढ़ में जिला अस्पतालों और मेडिकल कॉलेजों की सुविधा उपलब्ध है। उन्होंने आगे प्रदेश की 6,111 स्वास्थ्य इकाइयों के बारे में बताते हुए गर्व से कहा कि इन स्वास्थ्य केंद्रों में से 1,276 सौर ऊर्जा के माध्यम से संचालित की जाती हैं। उन्होंने कहा कि राज्य ने 28 जिलों से 24 जिलों को सौर ऊर्जा से जोड़कर हमनें लक्ष्य प्राप्त किया है।

उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ अब तक सौर ऊर्जा से जुड़ा हुआ है और हमारे पास छोटी इकाइयों तक पहुंचने का लक्ष्य है। उन्होंने कहा कि सरकार अभी राज्य एजेंसी क्रेडा (छत्तीसगढ़ नवीकरणीय ऊर्जा विकास एजेंसी) के माध्यम से अपनी छोटी सी शुरुआत में 3988.9 किलोवाट सौर ऊर्जा से पानी का योगदान शुरू कर रही है। उन्होंने क्रेडा का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि यह सोलर पैनल को स्थापित करने के लिए हम उनके आभारी है, जो बहुत अच्छी तरह से काम कर रहे हैं।

छत्तीसगढ़ में सौर पीवी प्रणाली के माध्यम से अपनी स्वास्थ्य सुविधाओं के विद्युतीकरण की एक व्यापक प्रक्रिया हुई है। ग्रामीण विकास मंत्री श्री टीएस सिंहदेव

ग्रामीण विकास मंत्री श्री टीएस सिंघदेव ने छत्तीसगढ़ की उपलब्धि साझा करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ के आदिवासी ग्रामीण क्षेत्रों में विशेष रूप से अस्पताल में निरंतर सेवा के लिए सौर ऊर्जा संयंत्र बहुत उपयोगी है। उन्होंने कहा कि सौर ऊर्जा संयंत्र बिजली की आपूर्ति जारी रखने के लिए उपयोगी है और इसका कोई हानिकारक उत्सर्जन नहीं है। श्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार क्रेडा के साथ मिलकर सोलर प्लांट को बढ़ावा दे रही है और ऊर्जा की बचत के लिए कार्य कर रही है, इस दिशा में 1190 सोलर प्लांट पहले से स्थापित हैं और 56 नए प्रस्तावित हैं। इस ज्ञानवर्धक वार्तालाप में आयुक्त एच.ई. अमनी अबू-ज़िद अफ्रीकी संघ, आयोग, स्वास्थ्य और पर्यावरण मंत्री माननीय श्री मोलाविन जोसेफ एंटीगुआ और बारबुडा, ऊर्जा मंत्री माननीय डॉ बच्चिर इस्माईल ओइद्रोगो, बुर्किना फासो प्राकृतिक संसाधन मंत्री माननीय सीमस ओ’रिगन (tbc), कनाडा, ऊर्जा और पेट्रोलियम मंत्री – माननीय चार्ल्स केटर (tbc) kenya, स्वास्थ्य मंत्री अब्दुल रहमान बिन मोहम्मद अल ओवैस (tbc) संयुक्त अरब अमीरात, समन्वयक मार्क कैरेटो, यूएसएआईडी पावर अफ्रीका ग्लोबल डायरेक्टर, एनर्जी एंड एक्स्ट्रेक्टिव इंडस्ट्रीज और रीजनल डायरेक्टर इन्फ्रास्ट्रक्चर, अफ्रीका पर्यावरण, जलवायु परिवर्तन और स्वास्थ्य विभाग के निदेशक श्री रिकार्डो पुलिति, डॉ मारिया नीरा, विश्व स्वास्थ्य संगठन उपस्थित थे।

Leave a Reply