नई दिल्ली: भारत के 14वें राष्ट्रपति के तौर पर रामनाथ कोविंद आज पद और गोपनीयता की शपथ लेंगे. सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस खेहर आज उन्हें संसद के केंद्रीय हाल में शपथ दिलाएंगे. शपथ ग्रहण समारोह सवा बारह बजे शुरू होगा और 45 मिनट तक चलेगा.सुबह 10.30 बजे नए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद अपने निवास से राजघाट जाकर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देंगें. 11.15 कोविंद राजघाट से सीधे राष्ट्रपति भवन में आकर प्रणब मुखर्जी से मिलेंगे. ये कार्यक्रम दरबार हॉल में होगा.

सुबह 11.45 बजे रामनाथ कोविंद और प्रणब मुखर्जी राष्ट्रपति भवन से संसद के लिए रवाना होंगे. इस दौरान प्रेसिडेंशियल बॉडी गार्ड उनके साथ होंगे. दोनों एक कार में 12 बजकर 12 मिनट पर संसद भवन पहुंचेंगे. संसद भवन के गेट नम्बर 5 से दोनों केंद्रीय हाल में पहुंचेंगे. गेट नंबर पांच पर उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, लोकसभा अध्यक्ष और संसदीय कार्य मंत्री दोनों की अगवानी करेंगे. केंद्रीय हॉल में मंच पर पांच कुर्सियां होंगी, जिसमें बीच की कुर्सी पर राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी बैठेंगे. दूसरी कुर्सी पर रामनाथ कोविंद और तीसरी पर मुख्य न्यायाधीश जे एस खेहर बैठेंगे. बाकी दो कुर्सियों में से एक पर उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी और दूसरी पर लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन बैठेंगी.

12 बजकर 15 मिनट पर शपथ लेंगे कोविंद

12 बजकर 15 मिनट पर मुख्य न्यायधीश जे एस खेहर, नए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को शपथ दिलाएंगे. इसके बाद प्रणव मुखर्जी अपनी कुर्सी से उठेंगे और रामनाथ कोविंद को अपनी कुर्सी पर बैठाएंगे. इसके बाद प्रणब मुखर्जी उस कुर्सी पर बैठेंगे, जिस पर शपथ से पहले रामनाथ कोविंद बैठे थे.

समारोह में कोविंद के परिवार के 11 सदस्य हिस्सा लेंगे

इसके बाद लोकसभा अध्यक्ष राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को अपना भाषण देने के लिए आमंत्रित करेंगी.राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का भाषण करीब 15 मिनट का होगा. शपथ ग्रहण समारोह में रामनाथ कोविंद के परिवार के 11 सदस्य हिस्सा लेंगे. समारोह में सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों और सांसदों को आमंत्रित किया गया है.

शपथ ग्रहण समारोह के बाद प्रधानमंत्री और कैबिनेट के सभी सदस्य नये राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को बधाई देंगे. समारोह के बाद प्रणव मुखर्जी नए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति भवन तक छोड़ने जाएंगे.