लखनऊ :समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता शिवपाल सिंह यादव ने एक नई राजनीतिक पार्टी बनाने की चेतावनी देते हुए कहा कि अगर पार्टी में मतभेद जारी रहे तो वह समाजवादी सेक्युलर मोर्चा बना लेंगे। उन्होंने कहा कि वह पूरे प्रदेश में घूम कर उपेक्षित समाजवादी पार्टी नेताओं को इकट्ठा कर रहे हैं और नई पार्टी बनाकर सामाजिक न्याय की लड़ाई लड़ेंगे।

आजमगढ़ के दो दिवसीय दौरे पर आए शिवपाल ने किसी का भी नाम लिए बगैर कहा, ‘हमने एक मौका दिया है कि पूरा परिवार इकट्ठा हो और नेताजी को फिर से सम्मान मिले। अगर नहीं तो समाजवादी सेक्युलर मोर्चा के नेतृत्व में जल्द ही बनाएंगे और सामाजि न्याय की लड़ाई लड़ेंगे।’

उन्होंने कहा, ‘हम उन्हें घर में सभी चीजों को व्यवस्थित करने का मौका दे रहे हैं। अगर मतभेद नहीं होता तो प्रदेश में समाजवादी सरकार होती। पार्टी में फूट की वजह से ही आज यह स्थिति पैदा हुई है। मैं पूरे प्रदेश की यात्रा कर रहा हूं और अगले डेढ़ महीने कर करता रहूंगा। मुझे लोगों का बंपर समर्थन मिल रहा है। हम पार्टी में उपेक्षित रहे नेताओं को साथ लेकर नया मोर्चा बनाएंगे।’

मुलायम सिंह यादव के राज्यपाल का पद स्वीकार किए जाने के बारे में शिवपाल ने कहा कि अभी ऐसा कोई प्रस्ताव नहीं है और होगा भी तो वह स्वीकार नहीं करेंगे। वहीं प्रदेश में सत्तारुढ़ योगी सरकार पर भी कुछ बोलने से इंकार करते हुए शिवपाल ने कहा कि अगले 6 महीने तक इस बारे में कोई टिप्पणी नहीं करेंगे।