पटना : बिहार विधान परिषद ने उपरी सदन में राबड़ी देवी को विपक्ष का नेता नियुक्त करने के राजद के आग्रह को ठुकरा दिया है और कहा है कि पद के लिए पार्टी के पास आवश्यक सदस्य संख्या नहीं है.

बिहार विधान परिषद के उपाध्यक्ष हारुन राशिद के मुताबिक, ‘उपरी सदन में विपक्ष के नेता पद के लिए नौ सदस्यों की संख्या अनिवार्य है, लेकिन वर्तमान में राजद के विधान परिषद सदस्यों की संख्या सात है. इसलिए उनका आवेदन नियमों के मुताबिक नहीं है.’

हारुन राशिद ने कहा, ‘नियमों का हवाला देते हुए एक पत्र बिहार राजद के अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे को भेज दिया गया है जिन्होंने राबड़ी देवी को राज्य में उपरी सदन का नेता नियुक्त करने का आग्रह किया था.’

नीतीश कुमार के नेतृत्व वाले महागठबंधन की सरकार में 75 सदस्यीय विधान परिषद में सुशील कुमार मोदी विपक्ष के नेता थे. राबड़ी देवी को 2012 में दूसरी बार विधान परिषद का सदस्य चुना गया था और उनका कार्यकाल 2018 में समाप्त होगा.