ग्वालियर । मध्यप्रदेश में महिलाओं की चोटी कटने की घटनाओं का दायरा बढ़ता जा रहा है। चंबल के बाद ग्वालियर और बुंदेलखंड क्षेत्र से महिलाओं की चोटियां कटने से अफवाहों का बाजार गर्म है। बीते रोज चार महिलाओं की चोटी और एक युवक के बाल कट गए थे। ग्वालियर जिले के महाराजपुरा थाना क्षेत्र में चकरायपुर गांव की रहने वाली रीटा खान की शुक्रवार की सुबह सोते समय चोटी कट गई। उसे इस बात का तब पता चला जब उसके सिर में तेज दर्द हुआ।

रीटा ने संवाददाताओं को बताया कि उसके घर के भीतर से सभी दरवाजे बंद थे, फिर उसकी चोटी कैसे कट गई, यह वह नहीं जान पा रही है। महाराजपुर थाने के प्रभारी सुरेंद्र कुशवाहा ने लोगों से अफवाहों की बजाय पूजा पाठ करने का आग्रह किया है।

इसी तरह टीकमगढ़ जिले में दो स्थानों पर महिलाओं की चोटी कट गई। तरीचर खुर्द की उमा शुक्रवार को खेत पर काम करने जा रही थी, तभी रास्ते में उसकी चोटी कट गई और वह बेहोश हो गई। उसे उपचार के लिए अस्पताल ले जाया गया है।

वहीं निवाड़ी के वार्ड क्रमांक पांच में रहने वाली पूजा रात में सो रही थी, तभी उसे लगा कि कोई बाल खींच रहा है, वह घबराकर उठी तो देखा कि उसके बाल कटे हैं, मगर आसपास कोई नहीं था।

सागर जिले के सानोधा थाना क्षेत्र के प्रभारी महेंद्र सिंह जगेठ ने बताया कि शुक्रवार को बम्होरी शाहपुर से भी एक महिला की चोटी कटने की सूचना मिली है। बताया गया है कि कल्लो बाई सेन शुक्रवार को घर पर काम कर रही थी, तभी किसी ने उसके बाल खींचकर काट लिए। इसके बाद वह कुछ देर के लिए बेहोश हो गई।

इससे पहले, गुरुवार को चंबल क्षेत्र में चार महिलाओं की चोटी व एक युवक के बाल काटने की खबरें आई थीं। शिवपुरी में ऐसी तीन घटनाएं और मुरैना व श्योपुर में एक-एक घटना हुई थी।