लखनऊ.रक्षाबंधन के मौके पर अपने प्रशंसकों के बीच लखनऊ में समाजवादी प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने एक बार फिर बीजेपी पर हमला बोला. पार्टी छोड़ बीजेपी ज्वाइन करने वाले नेताओं पर बोलते हुए उन्होंने कहा, जो लोग पार्टी छोड़ कर गए हैं वह डेपुटेशन पर गए हैं. जब सरकार बनेगी अगर वापस आना चाहते हैं तो कमेटी तय करेगी.

पूर्व एमएलसी बुक्कल नावाव के पार्टी छोड़ने पर उन्होंने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा, जब एक महीने पहले ईद पर सेवैंया खाई थीं तब नहीं कहा कि बीजेपी में जाना है. उनका कुछ जमीन का मामला था इसलिए वह गए. बीजेपी के लोगों का मानना है कि जब तक हमारे यहां कोई रहता है तब तक वह बुरा है. जब उनके यहां गया तो अच्छा हो गया.

पिछली सरकार की योजनाओं के बंद करने पर अखिलेश ने कहा, समाजवादी पेंशन योजना बंद कर दी. लैपटॉप योजना बंद कर दी. कहते थे कि हम एक पक्ष के लोगों के लिए काम करते थे. और अब खुद 51 हजार बांट रहे हैं तब क्या है. हमें खुशी है हमारी योजना को आगे बढ़ा रहे हैं. जब हम बांटते थे तब बंद करवा दी, अब खुद बांट रहे हैं.

बिहार की राजनीतिक उठापटक पर हमलावर रुख अपनाते हुए अखिलेश यादव ने कहा, पहले कहते थे कि कब्रिस्तान की राजनीति कर रहे हैं और अब बिहार में नीतीश के साथ मिलकर कितने कब्रिस्तान की दीवार बनवा रहे हैं. यह किस चीज की राजनीति है.