मुंबई : स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) के खाताधारकों को बैंक से मेसेज मिल रहे हैं, जिसमें कहा जा रहा है कि उनके डेबिट कार्ड (ATM) को स्थायी रूप से ब्लॉक कर दिया गया है. ATM कार्ड ब्लॉक किए जाने की वजह यह है कि बैंक ने सुरक्षा कारणों से मैगस्ट्रिप (मैग्नेटिक) डेबिट कार्ड्स को EVM चिप डेबिट कार्ड्स से बदलने का फैसला किया है.

बिना चार्ज लिए EVM चिप डेबिट कार्ड जारी करेगा SBI
बैंक ने अपनी वेबसाइट में कहा है कि सुरक्षा कारणों और RBI के गाइडलाइंस का पालन करने के लिए बैंक ने स्थायी रूप से मैगस्ट्रिप डेबिट कार्ड्स को ब्लॉक करने का फैसला किया है. अपना ATM कार्ड बदलवाने के लिए खाताधारकों को बैंक जाना होगा या इंटरनेट बैंकिंग (www.onlinesbi.com) के जरिए आवेदन करना होगा. SBI बिना कोई चार्ज लिए EMV चिप डेबिट कार्ड जारी करेगा.

30 सितंबर 2017 है डेडलाइन
पिछले साल रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने बैंकों को मैग्नेटिक स्ट्रिप बेस्ड ATM की जगह EMV चिप और कार्ड्स के पिन आधारित मॉडल की ओर शिफ्ट करने को कहा था, ताकि कार्ड्स की क्लोनिंग, स्कीमिंग से सुरक्षा सुनिश्चित की जा सके. साथ ही, दूसरे तरह के फ्रॉड से भी ग्राहकों को बचाया जा सके. RBI ने व्हाइट लेबल ATM ऑपरेटर्स समेत सभी बैंकों को निर्देश दिया था कि वह 30 सितंबर 2017 तक चिप कार्ड आधारित ATM की ओर शिफ्ट हो जाएं.

EMV चिप टेक्नोलॉजी डेबिट कार्ड पेमेंट्स के लिए हालिया ग्लोबल स्टैंडर्ड है. इस टेक्नोलॉजी को यूरोप, मास्टरकार्ड और वीजा के द्वारा डवलप किए गए स्टैंडर्ड्स का पालन करना होता है. यह मैगस्ट्रिप (मैग्नेटिक) कार्ड्स की तुलना में कहीं ज्यादा सुरक्षित टेक्नोलॉजी है. चिप बेस्ड कार्ड में सिक्योरिटी का एक अतिरिक्त स्तर होता है.