तेजस्वी सरकारी मकान छोड़ने का नाम ले रहे : सुशील मोदी

पटना : उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि 27 साल की उम्र में 30 संपत्ति के मालिक बने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव को जमीन-मकान का इतना लोभ है कि सरकारी मकान छोड़ने के लिए तैयार नहीं हैं.

हजार करोड़ की बेनामी संपत्ति खड़ा कर लेने के बावजूद हवस में बदल चुकी लालच की वजह से सीबीआई का चक्कर लगाना पड़ रहा है, मगर इससे भी सबक लेने को तैयार नहीं है.

उन्होंने कहा कि तेजस्वी प्रसाद यादव को रहने के लिए कितने मकान चाहिए? बालू माफियाओं से एक ही दिन आठ फ्लैट बेच देने के बावजूद राबड़ी देवी 10 फ्लैट की मालिक हैं. कांति सिंह ने मंत्री बनने के लिए जो जमीन सहित मकान गिफ्ट किया वह भी तेजस्वी के नाम से है.

प्रभुनाथ यादव से लिखवाये गये जमीन सहित मकान कालेधन को सफेद करने के लिए एके इंफोसिस्टम को बेच कर और फिर कंपनी के मालिक बन कर तेजस्वी ने उसे हासिल कर लिया. एमएलए को-ऑपरेटिव में एक प्लॉट आवंटित कराने के बावजूद लालू प्रसाद ने बादशाह प्रसाद आजाद से दूसरा प्लॉट लिखवा लिया.

साथ ही अब्दुल बारी सिद्दीकी से राबड़ी देवी को एक प्लॉट दिलवा दिया. अवैध तरीके से हथियार, को-ऑपरेटिव के आधे दर्जन प्लॉट और मकान को किराये पर लगा कर वर्षों से लाखों रुपये की कमायी कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि आखिर पटना में इतने मकान होते हुए भी तेजस्वी को सरकारी मकान से इतना मोह क्यों है? सरकार ने जो मकान आवंटित किया है, वह भी काफी बड़ा है जिसे उन्हें सहर्ष स्वीकार कर लेना चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *