पूर्वी चंपारण व दरभंगा में नोट को बदलने व जमा करने आये दो बुजुर्गों की मौत

सिकरहना (पूचं)/अलीनगर (दरभंगा): पूर्वी चंपारण जिले के ढाका में एसबीआइ में नोट बदलने आये 55 वर्षीय गोनू महतो की मौत हो गयी. बैंक खुलने के बाद वह कतार में खड़े थे, तभी अचानक बेहोश होकर गिर पड़े. लोग उन्हें ढाका रेफरल अस्पताल ले जा रहे थे कि रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया. चौकीदार द्वारा सूचित करने पर परिजन शव को अपने साथ ले गये. दरभंगा जिले के अलीनगर  में 1000 के नोट जमा करने बैंक पहुंचे एक वृद्ध की भीड़ में दब कर मौत हो गयी.
नन्हकार गांव के रामकिशन अलीनगर स्थित पीएनबी शाखा में अपने खाता में 1000 रुपये के 13 नोट जमा करने के लिए पहुंचे थे. बैंक के बाहर ही सुबह  10:30 तक इतनी भीड़ जुट गयी कि रेलमपेल की स्थिति बन गयी. उसी भीड़ में दब  जाने से उनके मुंह से खून निकलने लगा. वह कतार में ही गिर पड़े. वहां मौजूद  लोगों ने तत्काल बगल के पीएचसी में भरती करवाया. इलाज के बाद स्थिति में  सुधार होने के बाद वे अपने परिजनों के साथ घर चले गये. इसी बीच सोमवार की  सुबह फिर उनके मुंह से खून गिरने लगा. जब तक लोग उन्हें लेकर इलाज के लिये  निकलते, तब तक उनकी मौत हो गयी.

Leave a Reply