साल भर बाद अखिलेश को मिला ‘मुलायम’ आशीर्वाद

लखनऊ : डॉ. राम मनोहर लोहिया की पुण्यतिथि पर समाजवादी परिवार में एकता की सुगबुगाहट फिर दिखाई पड़ी। सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव और राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव लोहिया पार्क में एक साथ दिखाई पड़े। वहीं, शिवपाल यादव लोहिया ट्रस्ट में ही लोहिया को याद करते दिखाई पड़े। मुलायम ने इस मौके पर कहा कि ‘उनका आशीर्वाद अखिलेश के साथ है। परिवार में पूरी तरह से एकता है, हमेशा एकता बनी रहेगी।’

अखिलेश ने छुए पिता के पैर

लोहिया पार्क में मुलायम पहले पहुंच गए थे। उन्हें पता चला कि अखिलेश भी यहां आने वाले हैं तो वह रुक गए। थोड़ी देर में अखिलेश भी वहां पहुंचे और पिता के पैर छुए। मुलायम ने भी उनके सिर पर हाथ रखकर आशीर्वाद दिया। इसके बाद मुलायम ने अखिलेश के साथ लोहिया की मूर्ति के पास जाकर फोटो भी खिंचवाई। इससे पहले मुलायम और शिवपाल ने लोहिया ट्रस्ट में लोहिया की मूर्ति पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। शिवपाल ने लोहिया के भाषणों की सीडी और वेबसाइट का विमोचन भी किया।

विचारों का झगड़ा तो हर घर में

इसके बाद अखिलेश यादव ने सपा मुख्यालय पहुंचकर कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि विचारों का झगड़ा तो हर घर में होता है। सिर्फ हम अकेले ही इसका शिकार नहीं हैं। उन्होंने कहा कि लोहिया पार्क में नेताजी ने हमें आशीर्वाद दिया है। वहां उन्होंने हम सबसे मुलाकात की। उनका आशीर्वाद हमारे साथ हमेशा बना हुआ है।

50 हजार से 80 करोड़ बनाने का फॉर्म्युला बता दो

अखिलेश ने फिर अमित शाह को निशाने पर लिया और कहा कि राजनीति के परिवारवाद पर तो हर कोई चर्चा कर रहा है, लेकिन पैसे के परिवारवाद पर कोई चर्चा नहीं कर रहा। मैं तो जानना चाहता हूं कि कैसे 50 हजार से 80 करोड़ बन जाते हैं? कम से कम कोई हमें यह फॉर्म्युला तो बता दे। 80 करोड़ न सही कम से दो करोड़ बनाने का ही बता दे।

हमारी योजनाओं का हो रहा रंगरोगन

अखिलेश यादव ने कहा कि यूपी में बीजेपी सरकार तो केवल बातों में ही विकास कर रही है। हमने जो काम करवाए, उन्हें अपना बता रही है। हमने जो लोहिया बसें खरीदी थीं, उन्हें भगवा रंगकर अपना बताया जा रहा है। इससे पहले हमने जो मेट्रो चलवाई, उसे अपना बता दिया। फैजाबाद में तो हमारे नाम का शिलापट भी हटाया जा रहा है। इनका दिल बहुत छोटा है, पर चिंता मत कीजिए, उन्होंने हमारे पत्थर हटाए तो हम सरकार हटा देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *