केनेडी की हत्या का अब खुलेगा राज़

वॉशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शनिवार (21 अक्टूबर) को कहा कि वह 1963 में तत्कालीन राष्ट्रपति जॉन एफ केनेडी की हत्या से जुड़ी गोपनीय फाइलों को सार्वजनिक करने की इजाजत देंगे. केनेडी की हत्या 22 नवंबर, 1963 को गई थी. इस हत्या को लेकर कई तरह की धारणाएं हैं, हालांकि आधिकारिक रूप से कहा गया कि बंदूकधारी ली हार्वी ओसवाल्ड ने उनकी हत्या की थी.

ट्रंप ने यह घोषणा उस वक्त की है जब ऐसी खबरें आई थीं कि सभी फाइलों को सार्वजनिक नहीं किया जाएगा. राष्ट्रपति ने ट्वीट किया, ‘‘राष्ट्रपति के तौर पर मैं लंबे समय से रोकी गई और गोपनीय फाइलों को सार्वजनिक करने की इजाजत दूंगा.’’

जॉन एफ केनेडी अमेरिका के 35वें राष्ट्रपति थे जिन्होंने 1961 में अमेरिका के राष्ट्रपति की बागडोर संभाली थी. थियोडोर रूज़वेल्ट के बाद केनेडी 43 की उम्र में दुसरे सबसे कम उम्र के राष्ट्रपति बने थे. वे 20वीं सदी के सबसे पहले राष्ट्रपति भी थे. केनेडी एकमात्र ऐसे कैथोलिक राष्ट्रपति है जिन्हे पुलित्ज़र पुरस्कार से नवाज़ा गया है.

राष्ट्रपति बनने के करीब दो साल बाद ही 22 नवम्बर 1963 को टेक्सास के डैलस में केनेडी की हत्या कर दी गई थी. इस जुर्म के लिए ली हार्वी ऑस्वाल्ड पर आरोप लगाया गया था, लोकिन इससे पहले की उस पर मुकदमा चलाया जा सके, आरोप लगने के दो दिन बाद ही जैक रूबी ने उसकी गोली मार कर हत्या कर दी थी.

Leave a Reply