मोदी जहां चाय बेचते थे, वहां चरस भी बिकती थी : लालू प्रसाद

पटना : राजद प्रमुख लालू प्रसाद ने आरोप लगाया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यह कहते हैं कि वह बचपन में चाय बेचते थे. सच तो यह है कि जहां पर वह चाय बेचते थे वहां पर चरस भी बेची जाती थी. उन्होंने कहा कि अब सब बातें सामने आने लगी हैं. नरेंद्र मोदी के एक रिश्तेदार रेलवे के ठेकेदार थे. मोदी वहीं पर बैठते थे.

उन्होंने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की जाति का भी खुलासा किया और कहा कि वह जाति के तेली नहीं बल्कि अपर कास्ट में गुजराती मोट घासी जाति के हैं. इसलिए बिहार के तेली जाति समुदाय के लोग इस भ्रम को अपने मन से दूर कर दें. उन्होंने लोगों से यूट्यूब और ह्वाट्सअप देखने की नसीहत दी और कहा कि वह भी रात के दो बजे तक इसको देखते हैं. सब तरह की जानकारी इस पर मिलती है.

राजद सुप्रीमो शनिवार को प्रदेश कांग्रेस द्वारा आयोजित श्रीकृष्ण सिंह की 130 वीं जयंती समारोह को संबोधित कर रहे थे. प्रदेश कांग्रेस ने उनको मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया था. उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का नाम लिये बगैर कहा कि जब से पलटू राम गये हैं तब से खत्म हो गये हैं. बीजेपी सपेरा जैसे नचायेगा. बिहार में सीधा लड़ाई लालू प्रसाद से होगी. कोई बीच में नहीं है. लड़ाई में चाहे उनको फांसी पर क्यों नहीं चढ़ना पड़ जाये.

प्रदेश कांग्रेस की भागीदारी से मनी जयंती

सम्राट अशोक कनवेंशन सेंटर में शनिवार को प्रदेश कांग्रेस की भागीदारी से श्रीकृष्ण सिंह की 130 वीं जयंती का आयोजन किया गया. मुख्य वक्ता लालू प्रसाद थे. इस आयोजन को भव्य बनाने के लिए पूर्व केंद्रीय मंत्री अखिलेश प्रसाद सिंह ने तमाम लोगों को आमंत्रित किया था.

इस मौके पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने जहां केंद्र सरकार की नीतियों की आलोचना की वहीं प्रदेश स्तर के नेताओं ने लालू प्रसाद के साथ लड़ाई का संकल्प दोहराया. लोकसभा की पूर्व अध्यक्ष मीरा कुमार ने कहा कि जातिवाद की सोच को जमीन में गाड़ देना होगा. पूर्व राज्यपाल निखिल कुमार ने कहा कि लोग नरेंद्र मोदी के पदचिह्नों पर चलेंगे तो झूठों के सरदार हो जायेंगे. कांग्रेस महासचिव डा शकील अहमद ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा. अखिलेश प्रसाद सिंह ने अपने जमात के लोगों से अपील की कि वे नीतीश कुमार व पीएम मोदी की कहारी छोड़कर असली भूमिहारी करें. प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी अध्यक्ष कौकब कादरी ने कहा कि पीयू के कार्यक्रम मुख्यमंत्री ने कांग्रेस नेता पर टिप्पणी की थी. सीएम की यह टिप्पणी उनकी मानसिक स्थिति को बताती है.

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष पद पर राजनीति बंद करने की दी नसीहत

लालू प्रसाद ने कांग्रेस नेताओं को नसीहत दी कि वह अंदरूनी लड़ाई का खेल खत्म करें. उन्होंने कहा कि कांग्रेस राष्ट्रीय पार्टी है पर दुर्भाग्य है कि उसका जिस दिन प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त होता है उसी दिन से हटाने का काम शुरू हो जाता है.

(साभार : प्रभात खबर )

Leave a Reply