ईरान-इराक बॉर्डर पर भूकंप : 328 मरे, 2500 घायल

सुलेमानिया (इराक): ईरान-इराक सीमा पर बीती रात आए भीषण भूकंप में मरने वालों की संख्या बढ़कर 328 हो गई है. सरकारी मीडिया ने कोरोनर कार्यालय के हवाले से बताया कि 7.3 की तीव्रता वाले भूकंप में कम से कम 2,530 लोग घायल हुए हैं. पिछले आंकड़े में 207 लोगों के मारे जाने और 1,700 लोगों के घायल होने की जानकारी दी गई थी. ईरान-इराक की पहाड़ी सीमा पर 7.3 की तीव्रता का भूकंप आने से 207 लोगों की मौत हो गई और 1700 लोग घायल हैं. वहीं भूकंप के कारण हुए भूस्खलन बचाव कार्यों में बाधा उत्पन्न कर रहे हैं. टि्वटर पर पोस्ट किये गये एक फुटेज में घबराए हुए लोग उत्तरी इराक में सुलेमानिया स्थित इमारतों से बाहर निकलते नजर आ रहे हैं. निकटवर्ती दरबंदीखान में भी कई प्रमुख दीवारें और कंक्रीट के ढांचे ढह गए.

भूकंप की स्थिति को संभालने के लिए स्थापित ईरानी सरकार की आपदा इकाई के उपप्रमुख बेहनम सैदी ने सरकारी टेलीविजन को पहले बताया था कि, ”164 से अधिक लोग मारे गए हैं और 1,686 से अधिक लोग घायल हैं.” इराक की सीमा में छह अन्य लोगों के मारे जाने की भी खबर है. इराक में भूकंप के झटके बगदाद तक महसूस किए गए.

ईरान के करमानशाह प्रांत के डिप्टी गवर्नर मोजतबा निक्केरदर ने कहा, ”हम तीन आपात राहत शिविर स्थापित करने की तैयारी कर रहे हैं.” ‘यूएसजीएस’ ने बताया कि भूकंप हलबजा से 30 किलोमीटर दूर दक्षिण-पश्चिम में कल रात करीब नौ बजकर 20 मिनट पर आया.

ईरान की आधिकारिक न्‍यूज एजेंसी IRNA के मुताबिक ईरान में करमनशाह में कस्र-ए शिरिन और अजगालेह सबसे ज्‍यादा प्रभावित हुए. इराक के सुलेमानिया प्रांत में छह लोगों के मरने और 150 के घायल होने की खबर है.

जिस इलाके में भूकंप आया है, वह अरब और यूरेशियाई टेक्‍टोनिक प्‍लेट की 1500 किमी फाल्‍ट लाइन के ही दायरे में आता है. यह बेल्‍ट पश्चिमी ईरान से लेकर उत्‍तर-पूर्वी इराक तक फैली है. इस कारण से यह क्षेत्र भूकंप के लिहाज से संवेदनशील है. इससे पहले 2003 में ईरान में बाम में भयावह भूकंप के चलते यह शहर तबाह हो गया था और तकरीबन 31 हजार लोगों की मौतें हुई थीं. इसी तरह ईरान में दो बड़े भूकंप 2005 और 2012 में आए जिनमें क्रमश: 600 और 300 लोगों की मौत हो गई. इसी मई में ईरान की तुर्केमेनिस्‍तान से लगती सीमा के निकट 5.7 तीव्रता के भूकंप के चलते 2 लोगों की मौत हो गई और सैकड़ों घायल हो गए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *