एक्वेरियम में होना चाहिए 9 मछलियां, लेकिन क्यों?

वास्तु से जुड़ी बहुत सी चीजें हैं, जो घर में सुख-शांति व उन्नति का प्रतीक बन चुकी हैं. इसलिए लोग आजकल घर में ऐसी कई चीजें रखते हैं जो वास्तु …

Read More

सूर्य करेगा धनु राशि में प्रवेश, थमेगा मांगलिक कार्यों का सिलसिला

देव प्रबोधिनी एकादशी से शुरू हुआ वैवाहिक कार्यक्रमों का सिलसिला सूर्य के धनु राशि में प्रवेश से 16 दिसंबर से एक माह के लिए थम जाएगा. राशि परिवर्तन के कारण …

Read More

शनिदेव क्यों हैं काले और क्यों रखते हैं पिता सूर्यदेव से वैरभाव

शनि एक ऐसा नाम है जिसे पढ़ते-सुनते ही लोगों के मन में भय उत्पन्न हो जाता है. ऐसा कहा जाता है कि शनि की कुदृष्टि जिस पर पड़ जाए वह …

Read More

कभी सोचा है आशीर्वाद के लिए पैर ही क्यों छूते हैं?

हममें से सभी ने कई-कई बार अपने बड़े-बुजुर्गों के पैरे छूए हैं। आशीर्वाद लेने के लिए जब भी कोई झुकता है, सामने वाले के पैर ही स्पर्श करता है। क्या …

Read More

जो खुद से संतुष्ट वह जीवित ही नहीं

मनुष्य का संघर्ष किससे है? अपने “मैं ” से. जो क्रांति करनी है वो खुद के अहंकार से करनी है. अहंकार से घिरा होना ही संसार में होना है और जो …

Read More

कबीर का ज्ञान

बहुत पहले एक साधू गंगा नदी के किनारे कुटिया बनाकर रहता था. उस साधु का नाम वनखंडी वैरागी था. उनके पास एक कामधेनु गाय थी. वह वैरागी साधू उसी गाय …

Read More

श्री सरस्वती यंत्र से अनेक प्रकार की मनोकामनाएं पूर्ण करें

वैदिक ज्योतिष हजारों सालों से भी सरस्वती यंत्र का प्रयोग विद्या प्राप्ति के लिए तथा अनेक प्रकार के लाभ प्राप्त करने के लिए करता रहा है तथा आज भी श्री …

Read More

देवप्रबोधिनी एकादशी: मंगल कार्य होंगे शुरू जागेंगे देव

देवप्रबोधिनी एकादशी पर भगवान विष्णु चार महीने की निद्रा से जाग्रत होते हैं और संसार में मांगलिक कार्यों पर लगा विराम हट जाता है। कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष को …

Read More

गोपाष्टमी : गाय पूजन से बरसेगा धन आएगी सुख समृद्धि

दीपावली के बाद गोपाष्टमी त्यौहार सभी हिन्दू मनाते हैं. कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि 8 नवंबर मंगलवार को यह त्यौहार है. गोपाष्टमी हमारे निजी सुख और वैभव में …

Read More

जानिए छठ पर्व के दौरान कब, क्‍या होगा

हमारे देश में सूर्योपासना के लिए प्रसिद्ध पर्व है छठ. मूलत: सूर्य षष्ठी व्रत होने के कारण इसे छठ कहा गया है. सूर्योपासना का यह अनुपम लोकपर्व मुख्य रूप से …

Read More