सामाजिक समता एवं सौहार्द का प्रतीक पर्व होली सबके लिए मंगलमय हो: योगी

लखनऊः प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि भारत की सनातन परम्परा का प्रमुख पर्व ‘होली’ है और सामाजिक समता एवं सौहार्द का प्रतीक यह पर्व सम्पूर्ण समाज एवं प्रदेशवासियों के लिए मंगलमय हो, यही हमारी शुभकामना है।

मुख्यमंत्री ने होली के अवसर पर अपनी शुभकामना देते हुए कहा कि पर्व एवं त्योहारों की लम्बी परम्परा सनातन धर्म के गौरव एवं प्राचीनता का प्रतीक है। सनातन हिन्दू धर्म की परम्परा में पर्व एवं त्योहार हर्षोल्लास एवं राष्ट्रीयता को मजबूती प्रदान करने की प्रेरणास्पद क्षण है।

उन्होंने कहा कि समाज और राष्ट्र में परिवर्तन की महत्वपूर्ण घटनाओं को हमारे ऋषि परम्परा ने पर्व एवं त्योहारों के रूप में धार्मिक मान्यता देकर अगली पीढ़ी को प्रेरणा एवं प्रकाश का आधार प्रदान किया।

होली का पर्व हमें अधर्म, असत्य एवं अन्याय जैसी आसुरी शक्तियों से लडऩे की प्रेरणा देकर परस्पर प्रेम एवं सछ्वाव के साथ अपने पर्व एवं त्योहार को मनाने की प्रेरणा देते आ रहे हैं।

हम सभी को यह नहीं भूलना चाहिए कि हमारे पर्व एवं त्योहारों में शोक और सन्ताप का कोई स्थान नहीं, लेकिन हर्षोल्लास के प्रतीक इन पर्वों में जोश के साथ होश भी आवश्यक है।

योगी ने कहा कि अपने पर्व एवं त्योहार की पवित्रता एवं मर्यादा हम सबको बनाए रखनी है। इस दृष्टि से कोई भी ऐसा कार्य न हो, जिससे पर्व एवं त्योहार की मर्यादा भंग होती हो।

उन्होंने प्रदेश के सभी जिला प्रशासन एवं नगर निकायों को होली के अवसर पर स्वच्छता, सुरक्षा एवं जलापूर्ति का विशेष व्यवस्था करने का निर्देश दिया।

जिससे किसी प्रकार की कोई असुविधा किसी को भी न हो, साथ ही यह भी सुनिश्चित किया जाय कि होली के दिन विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित हो। जिससे शान्तिपूर्ण ढंग से यह पर्व मनाया जा सके।

Leave a Reply