उन्नाव गैंगरेप : विधायक समेत अन्य पर FIR तथा CBI जांच के आदेश

लखनऊ : उन्नाव में नाबालिग लड़की से गैंगरेप और पीड़िता के पिता की हत्या के मामले में यूपी सरकार ने सीबीआई जांच कराने के आदेश दिये हैं।

इस मामले की जांच के लिए गठित स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम की रिपोर्ट के आधार पर प्रदेश सरकार द्वारा विधायक व अन्य के खिलाफ गैंगरेप का मामला दर्ज करने और पूरे मामले की सीबीआई जांच कराने का आदेश दिया गया है।

इसके साथ ही पीड़िता के पिता के इलाज में लापरवाही बरतने वाले जिला अस्पताल के दो इमरजेंसी मेडिकल आफिसर डॉ डीके द्विवेदी, डॉ प्रशांत उपाध्याय और सीओ सफीपुर कुंवर बहादुर सिंह को निलंबित कर दिया गया है।

वहीं जिला अस्पताल के आर्थो सर्जन डॉ मनोज कुमार, सर्जन डॉ जीपी सचान और ईएमओ डॉ गौरव अग्रवाल के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं।

इस संबंध में प्रमुख सचिव (गृह) अरविंद कुमार ने बताया कि बुधवार को एडीजी जोन, लखनऊ द्वारा शासन को एसआईटी की जांच रिपोर्ट सौंपी गई थी।

इसके अलावा डीआईजी जेल लव कुमार ने जेल प्रशासन की भूमिका और डीएम उन्नाव ने भी जिला अस्पताल के डॉक्टरों की तरफ से इलाज में बरती गई लापरवाही के संबंध में शासन को अपनी रिपोर्ट भेजी थी।

इन तीनों रिपोर्ट्स और एसआईटी की सिफारिश के आधार पर शासन द्वारा विधायक समेत अन्य आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने और सीबीआई से इस मामले की जांच कराने का आदेश दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *