भारत दौरे का अपना खर्च खुद उठाएगी इंग्लैंड की टीम

Last Updated on

नई दिल्ली. नौ नवंबर से भारत और इंग्लैंड के बीच शुरू हो रही पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) भारत दौरे पर आई अपनी टीम का खर्चा खुद उठाने को तैयार हो गया है. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के सूत्रों के मुताबिक, बोर्ड के सीईओ राहुल जौहरी और ईसीबी के सीईओ टॉम हैरिसन के बीच इसको लेकर बातचीत हुई थी. जब तक बीसीसीआई अपने देश में चल रहे विवाद को निपटा नहीं देता तब तक ईसीबी अपनी टीम के खर्चे का भुगतान खुद करने तैयार है.

यह था मामला – सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त लोढ़ा समिति की सिफारिशें लागू किए बगैर बीसीसीआई कोई बड़ा वित्तीय लेन-देन नहीं कर सकता है और इसी वजह से पिछले दिनों शिर्के ने ईसीबी को ईमेल करके कहा था कि वर्तमान दौरे के लिए उनके साथ एमओयू पर दस्तखत होना मुश्किल हो गया है. ऐसे में भारत पहुंच चुकी इंग्लैंड की टीम को यहां रहने-ठहरने का खर्च अपनी जेब से देना होगा.

कौन उठाता है खर्चा- किसी भी क्रिकेट सीरीज की मेजबानी करने वाला क्रिकेट बोर्ड ही दौरा करने वाले टीम के खिलाड़ियों और रहने-खाने के खर्च का भुगतान करता है. इसके लिए सीरीज से पहले दोनों देशों के बोर्डों के बीच एमओयू होता है.

Leave a Reply