किसान आन्दोलन को लेकर शिवराज की गांधीगिरी

शिवराज

शिवराजभोपाल। मध्य प्रदेश में हिंसक किसान आंदोलन को लेकर घिरे राज्य के मुख्यमंत्री गांधीगिरी पर उतर आए है | शिवराज सिंह चौहान आज से अनिश्चितकालीन उपवास पर बैठेंगे। मुख्यमंत्री 11 बजे से वो भोपाल के दशहरा मैदान में उपवास शुरू करेंगे, जहां वो किसानों से भी बात करेंगे।

शुक्रवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि, ‘मैं किसानों के मुद्दों के समाधान के लिए दशहरा मैदान में अनिश्चितकालीन उपवास पर बैठूंगा, ताकि किसानों एवं जनता से चर्चा करके शांति बहाल की जा सके।’

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के शनिवार से अनिश्चितकालीन उपवास के एलान को देखते हुए सभी मंत्रियों को भोपाल बुला लिया गया है। जनसंपर्क मंत्री डॉ.नरोत्तम मिश्रा ने फोन करके सभी को सुबह तक भोपाल पहुंचने के लिए कहा।
बताया जा रहा है कि राजस्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता भिंड दौरे पर जा रहे थे लेकिन उन्हें रास्ते से लौटना पड़ा। इसी तरह उच्च शिक्षा मंत्री जयभान सिंह पवैया तमिलनाडु जा रहे थे। पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री गोपाल भार्गव भी क्षेत्र के दौरे पर थे।
सभी मंत्री सुबह तक भोपाल पहुंच जाएंगे। उधर, किसानों को और सहूलियत देने को लेकर मंत्रालय में परीक्षण शुरू हो गया है। बताया जा रहा है कि मुख्यमंत्री अगले एक-दो दिन में कुछ बड़ी घोषणाएं कर सकते हैं।
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के भेल के दशहरा मैदान में खुला मंच लगाने और उपवास पर बैठने के दौरान पूरी भाजपा उनके पीछे खड़ी होगी। प्रदेश पदाधिकारी न सिर्फ मौके पर मौजूद रहेंगे बल्कि किसानों को भी लाएंगे। पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा और प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान ने मुख्यमंत्री की घोषणा के बाद उनसे मुख्यमंत्री निवास में मुलाकात की।
आपको बता दें मध्यप्रदेश में किसानों का अपनी कई मांगों के लेकर पिछले एक सप्ताह से आंदोलन कर रहे हैं। और इस दौरान पुलिस के साथ झड़प में कई किसानों की जानें भी जा चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *