ग्रामीणों को घरेलू उपयोग की सामग्री सहित किसानों को मिला कृषि औजार

नारायणपुर| भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल 46वीं बटालियन द्वारा बीते दिन बासिंग में सिविक एक्षन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। उक्त सिविक एक्षन कार्यक्रम के दौरान झारावाही ग्राम पंचायत सहित कुंदला ग्राम पंचायत के जरूरतमंद ग्रामीणों एवं निर्धन परिवारों को घरेलू सामग्री बर्तन इत्यादि वितरित किया गया। इसके साथ ही किसानों को खेती-किसानी हेतु उन्नत कृषि यंत्र वितरित किया गया। इस मौके पर आईटीबीपी के द्वारा मेडिकल कैंप में क्षेत्र के 57 ग्रामीण महिलाओं, पुरूषों और बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण कर निःशुल्क औषधि वितरित किया गया। वहीं आईटीबीपी के चिकित्सक डाॅ बीएल राय ने ग्रामीणों को शुद्ध पेयजल का उपयोग, गरम एवं ताजा भोजन का सेवन, स्वच्छता एवं साफ-सफाई रखने सहित बीमार होने की स्थिति में नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र अथवा आईटीबीपी के कैंप में आकर ईलाज कराये जाने इत्यादि स्वास्थ्य शिक्षा संबंधी समझाईश दी गयी। इस दौरान आईटीबीपी 46वीं वाहिनी के कमांडेंट श्री आरएन गांगुली ने ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि आईटीबीपी ग्रामीणों की सेवा एवं सुरक्षा के लिए तैनात है। ग्रामीण किसी भी सहायता के लिए निःसंकोच होकर आईटीबीपी के कैंप में आकर संपर्क कर सकते हैं। उन्होंने ग्रामीणों को चिकित्सा संबंधी सहायता के साथ ही दवाई एवं उपचार हेतु संपर्क करने की समझाईश दी। वहीं ग्रामीण युवाओं को शांति एंव अमन-चैन स्थापित करने में सहभागी बनने का आव्हान किया। इस मौके पर आईटीबीपी के अधिकारियो के अलावा बासिंग चैकी प्रभारी उपनिरीक्षण श्री भुवनेष्वर नाग तथा आईटीबीपी और जिला पुलिस बल के जवानों के साथ ही क्षेत्र के पंचायत पदाधिकारी एवं बड़ी संख्या में ग्रामीणजन मौजूद थे।