ओडिशा में तबाही मचाने आ रही ‘तितली’, अगले 24 घंटे बच के रहें

भुवनेश्वर : बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र धीरे-धीरे चक्रवात का रूप धारण करने लगा है, जिसका नाम ‘तितली’ रखा गया है।

ओडिशा में चक्रवाती तूफान के साथ भारी बारिश की आशंका बढ़ गई है। जिसके बाद राज्य और ओड़िसा की सीमा से लगे हुए राज्यों में भी अलर्ट जारी कर दिया गया है .

मौसम विभाग ने तटीय जिलों में 80 से 90 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने के साथ भारी बारिश की आशंका जताई है।

खासकर पुरी, गजपति, केंद्रपाड़ा व जगत¨सहपुर जिलों में रेड अलर्ट घोषित किया गया है। तूफान के गुजर जाने तक सभी सरकारी कर्मचारियों की छुट्टी रद कर दी गई है।

मौसम विभाग के अनुसार मंगलवार सुबह 12 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चक्रवारी तूफान तितली गोपालपुर बंदरगाह की तरफ आगे बढ़ रहा था।

तटीय जिलों में रहने वाले लोगों के अनुसार चक्रवाती तूफान का असर मंगलवार को सुबह से ही देखने को मिलने लगा था। तेज ठंडी हवा चल रही थी। उधर रेड अलर्ट घोषित चार जिलों में भारी बारिश की आशंका से सतर्कता बढ़ा दी गई है।

सरकार की तरफ से सभी अधिकारियों को हेडक्वार्टर में रहने का निर्देश जारी कर दिया गया है। राहत एवं बचाव कार्य के लिए 300 नाव और नाविक तैयार हैं।

मछुआरों को समुद्र में न जाने की सलाह मौसम विभाग ने एक बार फिर से मछुआरों को समुद्र में न जाने की हिदायत देते हुए अलर्ट जारी कर दिया है। 10 एवं 11 अक्टूबर को राज्य में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

10 अक्टूबर की रात को 90 किलोमीटर प्रति घंटा से अधिक की रफ्तार से हवा चलने का पूर्वानुमान मौसम विभाग की तरफ से लगाया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *