जून में होने वाली आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के लिए आईसीसी ने हर देश से प्रसिद्ध खिलाड़ियों को अपना चैंपियन एम्बेसडर चुना है। आगामी चैंपियंस ट्रॉफी 1 से 18 जून के बीच इंग्लैंड और वेल्स में होगी।

पाकिस्तान से शाहिद अफरीदी, बांग्लादेश से हबीबुल बशर, इंग्लैंड से इयान बेल, न्यूज़ीलैंड से शेन बॉन्ड, ऑस्ट्रेलिया से माइक हसी, श्रीलंका से कुमार संगकारा, दक्षिण अफ्रीका से ग्रेम स्मिथ और भारत से हरभजन सिंह को आईसीसी ने 50 दिन पहले ही एम्बेसडर चुना है। ये सभी ख़िलाड़ी अपने देशों में  दिग्गज खिलाडियो में से एक है। सभी के अंतर्राष्ट्रीय रिकॉर्ड्स को एक नजर से देखा जाए तो सभी ने कुल मिलाकर 1,774 मैच खेले है जिसमे 51,906 रन, 48 शतक और 838 विकेट लिए हैं।

सभी चैंपियन एम्बेसडर आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के निसान ट्रॉफी टूर से जुड़ेंगे और यूके में स्कूल के बच्चे को एक बेहतरीन मौके मिलेगा इन सभी दिग्गज खिलाड़ियो से क्रिकेट सीखने का, ये सब क्रिकेट को प्रमोट करने के लिए इस अभियान में हिस्सा लेंगे इसके अतिरिक्त सभी आठ ख़िलाड़ी मैच के दौरान अपने विचार लोगो के साथ साँझा करेंगे। हर मैच का विश्लेषण इन खिलाड़ियो द्वारा आईसीसी की वेबसाइट पर देख सकते है।

आईसीसी के चीफ एग्जीक्यूटिव डेविड रिचर्डसन ने कहा कि “चैंपियंस ट्रॉफी शुरू होने में अभी 50 दिनों का समय बाकि है और हम आईसीसी की तरफ से इन सभी आठ खिलाड़ियो को चैंपियन एम्बेसडर चुनते है। इस अभियान के जरिए हमारा लक्ष्य यही है कि  इन खिलाड़ियो को फैन्स के साथ जोड़ा जाए और क्रिकेट को बेहतरीन तरीके से लोगो के सामने लाया जाए। हम आशा करते हैं  कि इन सभी के विचार और विश्लेषण लोगो को पसंद आयेंगे।

भारत की तरफ से हरभजन सिंह को चैंपियन एम्बेसडर चुना गया। हरभजन 2002 में भारत के लिए चैंपियंस ट्रॉफी जीत चुके हैं। चैंपियन एम्बेसडर बनने के बाद हरभजन सिंह ने कहा कि “भारत की तरफ से चैंपियन एम्बेसडर चुना जाना मेरे लिए गर्व की बात है और सबसे बड़ी बात ये है की भारत गत विजेता है। मेरी प्रतिक्रिया गतविजेता टीम के लिए है और कोशिश रहेगी की मैं अपने विचारों से क्रिकेट के खेल को लोगो तक अच्छे तरीके से प्रस्तुत करूं। मेरा विश्वास है कि भारत इस टूर्नामेंट में काफी अच्छा खेलेगा।”