विश्व मंच पर प्रसिद्धि पा रही छत्तीसगढ़ की कला- संस्कृति- बृजमोहन

पैरी के धार लोक कला मंच के द्वारा प्रतिवर्ष आयोजित सुआ लोकोत्सव एवं सम्मान समारोह में शामिल हुए बृजमोहन अग्रवाल

रायपुर : चांगोराभाठा रायपुर में पैरी के धार लोक कला मंच के द्वारा प्रतिवर्षानुसार सुआ लोकोत्सव एवं सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ के पूर्व संस्कृति मंत्री एवं विधायक बृजमोहन अग्रवाल बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए। इस दौरान लगभग 800 से अधिक महिलाओं और बच्चों द्वारा सुआ नीति के माध्यम से बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का संदेश भी दिया गया।
समारोह को संबोधित करते हुए बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि पैरी के धार लोक कला मंच के माध्यम से
जोशी बहने उमा, रेखा और प्रभा अपनी छत्तीसगढ़ की कला-संस्कृति को और समृद्ध करने जुटी हुई है। उनका यह कार्य प्रेरणादायक है। उन्होंने कहा कि मेरे लिए सौभाग्य की बात थी कि संस्कृति मंत्री के रूप में छत्तीसगढ़ की कला और संस्कृति के हित में काम करने का अवसर मुझे मिला था। हमने बेहतर कार्य किया था जिसका सुपरिणाम अब दिखने लगा है।

उन्होंने कहा कि ददरिया,करमा, सुआ,राउत नृत्य छत्तीसगढ़ की एक खाद पहचान बनाता है। राज्य के लोक कलाकार यहां की संस्कृति और कला को देश दुनिया से अवगत करा रहे हैं। हमारे लिए गर्व की बात है कि छत्तीसगढ़ के कलाकारों ने विश्व स्तर पर अपनी पहचान बनाई है। कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ी फ़िल्म निर्माता व कलाकार योगेश अग्रवाल, छगन चौबे, मंच के अध्यक्ष दुष्यंत दुबे, उपाध्यक्ष गरिमा शर्मा,पूर्व पार्षद यादराम साहू,मंडल भाजपा अध्यक्ष महेश शर्मा, कमलेश शर्मा,रेखा,नूतन,शीला आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply