नोटबंदी : आयकर रिटर्न भरने वालों की संख्या 25 फीसद बढ़ी

नई दिल्ली : वित्त वर्ष 2016-17 में आयकर रिटर्न (आइटीआर) दाखिल करने वालों की संख्या 25 फीसद बढ़कर 2.82 करोड़ तक पहुंच गई। आयकर विभाग का कहना है कि नोटबंदी के बाद ज्यादा लोग अब आयकर रिटर्न दाखिल कर रहे हैं जिससे इनकी संख्या में इजाफा हुआ है।

एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि व्यक्तिगत लोगों द्वारा आयकर रिटर्न दाखिल करने का आंकड़ा 5 अगस्त तक बढ़कर 2.79 करोड़ पर पहुंच गया। इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में इस अवधि तक 2.22 करोड़ लोगों ने आयकर रिटर्न दाखिल किए थे।

इस तरह आयकर रिटर्न दाखिल करने वालों की संख्या में 25.3 फीसद की बढ़ोतरी हुई है। बयान में कहा गया है कि नोटबंदी और स्वच्छ धन अभियान की वजह से आयकर रिटर्न दाखिल करने वालों की संख्या में उल्लेखनीय इजाफा हुआ है।

आंकड़ों के अनुसार 5 अगस्त तक बाकी पेज 8 पर कुल दाखिल किए गए रिटर्न की संख्या इससे पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि के 2.26 करोड़ से बढ़कर 2.82 करोड़ हो गई।

यह 24.7 फीसद की वृद्धि है। इससे पिछले साल यह वृद्धि दर 9.9 फीसद रही थी। व्यक्तिगत लोगों और एचयूएफ, जिनके खातों का आडिट करने की जरूरत नहीं है, के लिए आयकर रिटर्न दाखिल करने की अंतिम तारीख 5 अगस्त थी। वित्त मंत्रालय का कहना है कि आइटीआर दाखिल करने की संख्या में इजाफे से पता चलता है कि नोटबंदी के बाद उल्लेखनीय संख्या में नए करदाताओं को कर के दायरे में लाया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *