विधायक हत्या : पूर्व मंत्री राजा पीटर और एएसआइ शेषनाथ गिरफ्तार

रांची : विधायक रमेश सिंह मुंडा हत्याकांड की जांच कर रही नेशनल इंवेस्टीगेशन एजेंसी (एनआइए) की टीम ने रविवार को पूछताछ के बाद झारखंड के पूर्व मंत्री गोपाल कृष्ण पातर (राजा पीटर) को गिरफ्तार कर लिया है.

रमेश सिंह मुंडा की सुरक्षा में तैनात रहे धनबाद के भौंरा ओपी में पदस्थापित जमादार शेषनाथ सिंह खरवार को भी गिरफ्तार किया गया है. दोनों से धुर्वा स्थित एसटीएफ परिसर में पूछताछ की जा रही है. एनआइए ने राजा पीटर के करीबी सुनील सोनार को हिरासत में लिया है. उससे भी पूछताछ हो रही है.

बताया जाता है कि एनआइए राजा पीटर को सोमवार को कोर्ट में पेश करेगी. शेषनाथ सिंह खरवार ने विधायक रमेश सिंह मुंडा की गतिविधियों की जानकारी नक्सलियों को दी थी. इसके बाद नक्सलियों ने रमेश सिंह मुंडा की हत्या की थी.

कार्यालय से करीबी हिरासत में लिया गया : इससे पहले, राजा पीटर के बुंडू व पैतृक गांव कमारपा स्थित घर, तमाड़ में कार्यालय, घर में खुले मां दिउड़ी नर्सिंग होम और दिउड़ी में नवनिर्मित होटल में एनआइए ने छापा मारा. चर्चा है कि एनआइए ने राजा पीटर के घर और कार्यालय को सील कर दिया है, हालांकि इसकी पुष्टि नहीं हुई है.

एनआइए की टीम सुबह आठ बजे तमाड़ पहुंची थी. सीधे रायडीह स्थित उनके कार्यालय गयी. यहां से सुनील सोनार को हिरासत में लिया गया. इसके बाद टीम सुनील को लेकर राजा पीटर के आवास व नर्सिंग होम पहुंची और जांच की. इस दौरान नर्सिंग होम में किसी को प्रवेश नहीं करने दिया गया. इसके बाद एनआइए के अधिकारी सुनील को लेकर दिउड़ी पहुंचे. वहां राजा पीटर के नवनिर्मित होटल की तलाशी ली.

अधिकारी राजा पीटर के पैतृक गांव कमारपा भी गये. वहां भी राजा पीटर के घर की तलाशी ली गयी. एनआइए के अधिकारी राजा पीटर के बुंडू स्थित घर भी गये. घर को कब्जे में लेकर दिनभर जांच करते रहे. छापेमारी की खबर सुन कर राजा पीटर अपने समर्थकों के साथ अपने आवास पहुंचे थे, जहां एनआइए के अधिकारियों ने उन्हें पूछताछ के लिए रोक लिया था. उनसे देर शाम तक पूछताछ की गयी, बाद में गिरफ्तार कर लिया गया.

जमादार शेषनाथ सिंह निलंबित, 15 तक रिमांड पर
सरकार को धनबाद के भौंरा ओपी में पदस्थापित जमादार शेषनाथ सिंह खरवार को निलंबित कर दिया है. एनआइए के अधिकारियों के अनुसार, घटना के समय वह विधायक रमेश सिंह मुंडा की सुरक्षा में तैनात था. उसने रमेश सिंह मुंडा की गतिविधियों की जानकारी नक्सलियों को दी थी. इसके बाद नक्सलियों ने रमेश सिंह मुंडा की हत्या की थी. गिरफ्तारी के बाद शेषनाथ को एनआइए ने कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे 15 अक्तूबर तक रिमांड पर भेज दिया गया. बताया जाता है कि एनआइए के अधिकारियों ने उसे पूछताछ के लिए शनिवार को बुलाया था. पूछताछ के बाद उसे उसे गिरफ्तार कर लिया गया.

(साभार : प्रभात खबर)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *